सांसद निशिकांत दुबे और उनकी पत्नी को बिठाकर मनोज तिवारी ने खींचा हाथ रिक्शा, पढ़ें क्या है पूरा माजरा

पश्चिम बंगाल चुनाव में नेताओं के अलग-अलग रंग देखने को मिल रहे हैं.

पश्चिम बंगाल चुनाव में नेताओं के अलग-अलग रंग देखने को मिल रहे हैं.

बीजेपी नेता मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) ने गोड्डा से भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और उनकी पत्नी को बिठाकर हाथ रिक्शा खींचा. बाद में सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर हमला बोलते हुए कहा कि दीदी ने हाथ रिक्शा चलाने वालों के लिए कुछ नहीं किया.

  • Share this:
रांची. चुनाव प्रचार में नेताओं के अलग-अलग रंग देखने को मिलते हैं. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण से पहले भाजपा नेता मनोज तिवारी कोलकाता की गलियों में हाथ रिक्शा चलाते नजर आए. मनोज तिवारी ने रिक्शा चालक को बिठाकर रिक्शा चलाया. इस दौरान आस-पास से गुजर रहे लोग उन्हें रुक कर देख रहे थे.

मनोज तिवारी ने हाथ रिक्शा चालकों के लिए कई चुनावी वादे भी किए. भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि अगर हमारी सरकार बनेगी तो हम इन्हें जूता मुहैया कराएंगे और पांच लाख रुपये तक का आयुष्मान बीमा कराएंगे. इस दौरान मनोज तिवारी ने गोड्डा से भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और उनकी पत्नी को भी हाथ रिक्शा पर बिठाकर रिक्शा चलाया.

इसके साथ ही ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि दीदी ने इनके लिए कुछ नहीं किया. आज भी ये चप्पल पहनकर रिक्शा चला रहे हैं. इनका हाल बेहाल है, इनकी समस्या सुनने आया था, फिर सोचा चलाकर देखूं और महसूस करूं कि इन्हें कितनी तकलीफ होती है.

मनोज तिवारी ने बंगाल चुनाव को लेकर कहा कि भाजपा चेहरे पर नहीं सिद्धांत पर चलती है. यहां चेहरे से ज्यादा महत्वपूर्ण भाजपा की पॉलिसी है. भाजपा विकास की राजनीति करती है. सबका साथ, सबका विकास व सबको विश्वास में लेकर राजनीति करती है. पश्चिम बंगाल का मुख्यमंत्री यहीं का होगा. राज्य में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार का खुला समर्थन मिलेगा, जिससे हम पश्चिम बंगाल को सोनार बांग्ला कर सकेंगे.
पश्चिम बंगाल में तीन चरणों की वोटिंग हो चुकी है. इसके बाद 10 अप्रैल, 17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को अलग-अलग क्षेत्रों में वोट डाले जाएंगे. वोटों की गिनती 2 मई को होगी. राज्य में कुल 294 विधानसभा सीटें हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज