मेडिकल जर्नल द लैंसेट की रिपोर्टः झारखंड के देवघर में Corona का सबसे ज्यादा खतरा

झारखंड के देवघर में कोरोना का खतरा सर्वाधिक.
झारखंड के देवघर में कोरोना का खतरा सर्वाधिक.

दुनिया के चर्चित मेडिकल जर्नल द लैंसेट ने देश के 20 जिलों में COVID-19 संक्रमण का सर्वाधिक खतरा बताया है, जिसमें झारखंड का देवघर (Deoghar) जिला भी शामिल है. राज्य में कोरोना मरीजों की तादाद 6243 पर पहुंच चुकी है.

  • Share this:
रांची. झारखंड में कोरोना वायरस (COVID-19) का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है. सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद महामारी की रोकथाम के प्रयास नाकाम साबित हो रहे हैं. प्रदेश में इन दिनों रांची, पूर्वी सिंहभूम, गढ़वा और धनबाद जैसे जिलों में कोरोना संक्रमण चरम पर बताया जा रहा है. लेकिन इस बीच दुनिया के चर्चित मेडिकल जर्नल द लैंसेट (The Lancet) के एक अध्ययन ने चौंकाने वाले तथ्य का खुलासा किया है. बीते दिनों जारी की गई द लैंसेट की रिपोर्ट के मुताबिक झारखंड (Jharkhand) के देवघर जिले (Deoghar) को इस महामारी से सबसे अधिक खतरा वाले देश के 20 जिलों की सूची में रखा गया है. इस रिपोर्ट की मानें तो बिहार, यूपी और एमपी के अलावा झारखंड के देवघर में भी कोरोना संक्रमण (Coronavirus Infection) का जोखिम सबसे ज्यादा बताया गया है.

मेडिकल जर्नल द लैंसेट की स्टडी के मुताबिक, राज्य में देवघर जिले में कोरोना संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा है. मेडिकल जर्नल ने इस जिले को सबसे अधिक खतरों वाले देश के 20 जिलों की लिस्ट में शामिल किया है. मेडिकल जर्नल की मानें तो देवघर देश में कोरोना के मामले में 10वां सबसे खतरनाक जिला है. वहीं बिहार के दरभंगा को इस लिस्ट में टॉप पर रखा गया है. लैंसेट की रिपोर्ट के मुताबिक देवघर में झारखंड के बाकी जिलों की ही तरह आवास, स्वच्छता और मेडिकल सुविधाओं की भारी कमी है. इस वजह से जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा सबसे अधिक है. खासकर मेडिकल सुविधाओं में कमी की वजह से जिले में संक्रमण फैलने की आशंका पर चिंता जताई गई है.





देश के सबसे गंभीर जिले
कोरोना वायरस का खतरा देश के जिन टॉप-10 जिलों में मंडरा रहा है, द लैंसेट ने विभिन्न सूचकांकों के आधार पर देश के टॉप 20 जिलों की रिपोर्ट (COVID-19 vulnerability index) जारी की है. इसमें टॉप-10 में बिहार, झारखंड, एमपी और यूपी है. इस रिपोर्ट के मुताबिक बिहार का दरभंगा जिला जहां सबसे ऊपर है, वहीं देवघर को 10वें नंबर पर रखा गया है. इस सूची में बिहार के 6 जिले, उत्तर प्रदेश के 2, मध्य प्रदेश और झारखंड के एक-एक जिले शामिल हैं. बिहार में दरभंगा के अलावा समस्तीपुर, छपरा, शिवहर, वैशाली और सहरसा जिलों में कोरोना का खतरा सर्वाधिक है. यूपी के सीतापुर और बलरामपुर जिले में महामारी में सबसे ज्यादा खतरा बताया गया है. वहीं, मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले में इस बीमारी के संक्रमण का सर्वाधिक खतरा है.

राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या 6243

इधर, झारखंड सरकार के मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक झारखंड में कोरोना वायरस संक्रमण का आंकड़ा बढ़कर 6243 पर पहुंच गया है. वहीं, देवघर जिले में इस वायरस से संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 120 है. मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक पिछले 24 घंटों में राज्य में कोरोना के 422 नए संक्रमित मरीज पाए गए हैं. वहीं 107 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे हैं. वायरस संक्रमण से अब तक राज्य में कुल 61 लोगों की मौत हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज