Home /News /jharkhand /

झारखंड की जनता को प्रतिनिधि के रूप में नहीं चाहिए पूर्व अधिकारी, ज्यादातर हारे

झारखंड की जनता को प्रतिनिधि के रूप में नहीं चाहिए पूर्व अधिकारी, ज्यादातर हारे

झारखंड चुनाव में जनता ने ज्यादातर अधिकारियों को हराया

झारखंड चुनाव में जनता ने ज्यादातर अधिकारियों को हराया

पूर्व एडीजी व वर्तमान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव (Rameshwar Uraon) के अलावा इस चुनाव में जनता ने जिस अधिकारी को स्वीकार किया, वो हैं लंबोदर महतो (Lambodar Mahto). आजसू के टिकट पर उन्हें गोमिया से जीत मिली.

रांची. झारखंड विधानसभा चुनाव में कई पूर्व अधिकारियों (Former Officers) ने भी किस्मत आजमाई. लेकिन इनमें से ज्यादातर को हार ही मिली. सिर्फ दो अधिकारियों को ही जनता से स्वीकार किया. पूर्व एडीजी व वर्तमान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव (Rameshwar Uraon) और गोमिया से आजसू उम्मीदवार लंबोदर महतो (Lambodar Mahto) को जीत मिली. जबकि बीजेपी के टिकट पर दूसरी बार चाईबासा से चुनाव लड़े रहे पूर्व आईएएस अधिकारी जेबी तुबिद (J B Tubid) और धनवार से लक्ष्मण सिंह (Lakshman Singh) चुनाव हार गये. जनता ने लोहरदगा से बीजेपी प्रत्याशी सुखदेव भगत और सिमडेगा से रेजी डुंगडुंग को भी हार दिया. डुंगडुंग चुनावी से ठीक पहले एडीजी के पद से वीआरएस लेकर मुकाबले में उतरे थे.

जनता ने ज्यादातर अधिकारियों को नकारा 

वर्तमान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव पुलिस सेवा से वीआरएस लेकर सियासत में आए. और केन्द्रीय मंत्री भी रहे हैं. अब लोहरदगा की जनता ने उन्हें अपना विधायक बनाया है. झारखंड के पूर्व गृह सचिव जेबी तुबिद आईएएस से वीआरएस लेकर सियासत में आए. और दूसरी बार बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़े. लेकिन हार गये. राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रहे पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत ने चुनाव से ठीक पहले बीजेपी का दामन थाम लिया था. लेकिन लोहरदगा की जनता ने बतौर बीजेपी प्रत्याशी उन्हें नकार दिया. एडीजी के पद से वीआरएस लेकर रेजी डुंगडुंग झारखंड पार्टी के टिकट पर चुनावी मैदान में उतरे. लेकिन सिमडेगा से जीत नहीं पाए. आईजी पद से वीआरएस लेकर दूसरी बार बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले लक्ष्मण सिंह को भी धनवार की जनता ने नकार दिया.

सिर्फ रामेश्वर उरांव और लंबोदर महतो जीते

रामेश्वर उरांव के अलावा इस चुनाव में जनता ने जिस अधिकारी को स्वीकार किया, वो हैं लंबोदर महतो. आजसू के टिकट पर उन्हें गोमिया से जीत मिली. छह माह पहले इस सीट पर हुए उपचुनाव में जेएमएम की बबिता महतो से हार गये थे. लंबोदर महतो राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रह चुके हैं.

ये भी पढ़ें- BJP के स्टार प्रचारक भी नहीं आए काम, कई सीटों पर दिग्गजों को करना पड़ा हार का सामना

 

 

Tags: Assembly Election 2019, Jharkhand Assembly Election 2019

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर