लाइव टीवी

बड़े-बूढ़ों को पछाड़ने वाला कोरोना नवजातों से चारों खाने चित, कैसे पढ़ें ये रिपोर्ट
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: May 19, 2020, 10:23 AM IST
बड़े-बूढ़ों को पछाड़ने वाला कोरोना नवजातों से चारों खाने चित, कैसे पढ़ें ये रिपोर्ट
रांची में संक्रमित मांओ से जन्म लेने वाले चार नवजात स्वस्थ हैं. कोरोना इनका कुछ नहीं बिगाड़ पाया है. (फाइल फोटो)

रांची के रिम्स (RIMS) और सदर अस्पताल में अबतक चार कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) गर्भवती महिलाएं मां बनी हैं. प्रसव के बाद नवजातों को इनके पास ही रहने दिया गया. फीडिंग भी कराई जा रही है. लेकिन चारों नवजात स्वस्थ हैं.

  • Share this:
रांची. कोरोना वायरस (Coronavirus) भले ही युवाओं और बुजुर्गों को अपना शिकार बना रहा हो, लेकिन नवजात (Newborn) के पास इसकी एक नहीं चलती. यहां तक कि कोरोना पॉजिटिव मांओ (Corona Positive Mother) की कोख से जन्म लेने वाले शिशुओं में भी इसका संक्रमण नहीं देखा गया. रांची में ऐसे चार मामले सामने आए हैं. चारों नवजात स्वस्थ हैं. कोरोना इनका कुछ नहीं बिगाड़ पाया है.

संक्रमित मांओ के पास रहने पर भी स्वस्थ हैं नवजात  

रांची के रिम्स और सदर अस्पताल में अबतक चार कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाएं मां बनी हैं. प्रसव के बाद नवजातों को उनकी मांओ के पास ही रहने दिया गया. फीडिंग भी कराई जा रही है. लेकिन चारों नवजात स्वस्थ हैं. कोरोना का इनपर कोई असर नहीं दिखा है.



रिम्स में कोरोना टास्क फोर्स की सदस्य डॉ. निशिथ एक्का का कहना है कि नवजातों को मां के दूध से ही इतनी सुरक्षा मिल जा रही है कि कोरोना इनका कुछ नहीं बिगाड़ पा रहा है. मां का दूध पीने से  शिशुओं में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो जाती है.



रांची सदर अस्पताल की चिकित्सा पदाधिकारी डॉ रंजू कुमारी की माने तो कोरोना वायरस का ट्रांसमिशन पॉजिटिव माताओं से नवजात में इसलिए नहीं हो पाता, क्योंकि माताओं के स्तनपान से इनके शरीर में इम्यून पावर और एंटीबॉडी का विकास होता है. इनके बल पर नवजात कोरोना वायरस तक को भी पछाड़ दे रहे हैं.

चारों संक्रमित मांओ का रिम्स में चल रहा इलाज 

रांची के अनगड़ा की रहने वाली चारों कोरोना पॉजिटिव माओं का रिम्स में इलाज जारी है. वैसे ऐहतियात के तौर पर राज्य सरकार गर्भवती महिलाओं की प्रसव से पहले कोरोना जांच करवा रही है. ताकि प्रसव के वक्त इन्हें कोई परेशानी न हो. इन चारों गर्भवती महिलाओं के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद रिम्स और रांची सदर अस्पताल के प्रसुति विभाग को कुछ दिनों के लिए बंद करना पड़ा था. प्रसव कराने वाली डॉक्टरों और नर्सों को क्वारंटाइन में भेजना पड़ा था. लेकिन अब दोनों जगहों पर फिर से प्रसुति विभाग खोल दिये गये हैं.

इनपुट- उपेन्द्र कुमार

ये भी पढ़ें-  झारखंड में Corona के पांच नए मामले आए सामने, अब संक्रमितों की संख्या हुई इतनी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 19, 2020, 10:21 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading