Rising Jharkhand: डबल इंजन सरकार के कारण नया विधानसभा भवन बनकर तैयार हुआ- CM रघुवर दास

झारखंड की राजधानी रांची में न्यूज़ 18 (News-18) का राइजिंग झारखंड (Rising Jharkhand) कार्यक्रम संपन्न हो गया. इस कार्यक्रम में सूबे के जुड़े महत्वपूर्ण विषयों और मुद्दे पर विस्तार से चर्चा की गई. पहले वक्ता के तौर पर राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश नारायण सिंह (Harivansh Narayan Singh) ने अपने विचार रखे. राज्य के सीएम रघुवर दास((CM Raghuvar Das)) ने सरकार के विकास कार्यों को लेकर विपक्षी दलों पर निशाना साधा.

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: August 28, 2019, 8:47 PM IST
Rising Jharkhand: डबल इंजन सरकार के कारण नया विधानसभा भवन बनकर तैयार हुआ- CM रघुवर दास
नया विधानसभा भवन बनकर तैयार हो गया है- सीएम रघुवर दास
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: August 28, 2019, 8:47 PM IST
झारखंड की राजधानी रांची में न्यूज़ 18 (News-18) का राइजिंग झारखंड (Rising Jharkhand) कार्यक्रम संपन्न हो गया. रांची के मेनरोड स्थित होटल रेडिशन ब्लू में बुधवार शाम हुए इस कार्यक्रम में सूबे के जुड़े महत्वपूर्ण विषयों और मुद्दे पर विस्तार से चर्चा की गई. राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश नारायण सिंह (Harivansh Narayan Singh) ने पहले वक्ता के तौर पर इसमें अपने विचार रखे. कार्यक्रम के आखिर में राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास (CM Raghuvar Das) ने सरकार के विकास कार्यों को लेकर विपक्षी दलों पर निशाना साधा.

राइजिंग झारखंड में रघुवर दास ने कहा कि मजदूर से संघर्ष कर के यहां तक पहुंचा हूं. गरीब के साथ अन्याय पर गुस्सा आता है. हमारी सरकार में कोई भेदभाव नहीं है. लेकिन धर्म की आड़ में अधर्म की इजाजत सरकार नहीं देगी. नदियों के पानी को रोकने की योजना है. छोटे-छोटे बराज बनाकर नदियों का पानी रोकेंगे. कार्यक्रम में रघुवर दास ने सरकार की नीतियों और योजनाओं से प्रदेश की सवा तीन करोड़ जनता को कैसे फायदा पहुंचा है, और जनसरोकार से संबंधित योजनाएं कैसे झारखंड के दूर-दराज गांवों तक पहुंची हैं इससे जुड़ी बातें विस्तापूर्वक रखी.

राइजिंग झारखंड कार्यक्रम में पक्ष और विपक्ष के नेताओं के साथ समाजसेवी और विभिन्न वर्ग से आए अतिथियों ने भी हिस्सा लिया और सूबे से जुड़े मुद्दों और विषयों पर अपने विचार रखे.

रघुवर दास (सीएम झारखंड)- मजदूर-आदिवासी समाज सजग हो रहा है. जेएमएम ने आदिवासियों को भगवान भरोसे छोड़ दिया. झारखंड नामधारी पार्टियां आदिवासियों के बीच दुष्प्रचार कर आदिवासी को ठगा. झारखंड नामधारी पार्टियां आदिवासी के नाम पर मत पेटी भरा. 30 सितम्बर तक हर गांव में स्ट्रीट लग जाएंगे. हमारे पास सबसे अधिक कोयला है, फिर भी झारखंड अंधेरे में था. 138 ग्रिड की जगह सिर्फ राज्य में 24 ग्रिड थी ,अप्रैल 2020 तक 24 घँटे बिजली. आज 30 लाख घरों में हमने बिजली पहुंचा दी है. पहाड़ से लेकर उग्रवाद क्षेत्र तक बिजली पहुंचाई है. गांवों में 24 घंटे बिजली मिलेगी. जितना कोयला झारखण्ड के पास ,उतना कोयला किसी के पास नही . 14 तक राज्य के 30 लाख घरों में बिजली नही था. हमारी सरकार ने हर घर मे बिजली दी.

रघुवर दास (सीएम झारखंड)-  यहां तक मजदूर से संघर्ष करकेपहुंचा हूं. गरीब के साथ अन्याय पर गुस्सा आता है. हमारी सरकार में कोई भेदभाव नहीं है. लेकिन धर्म की आड़ में अधर्म की इजाजत सरकार नहीं देगी. नदियों के पानी को रोकने की योजना है. छोटे छोटे बराज बनाकर रोकेंगे नदी की पानी. कलम क्लब बना कर फुटबॉल को बढ़ावा दे रही है सरकार. देश का पहला यूनिवर्सिटी झारखंड में बना है. 1 लाख से ज्यादा नौकरियां सरकार ने युवाओं को दी. ग्रेजुएशन तक राज्य की बालिकाओं की शिक्षा निशुल्क. शिबू परिवार पर साधा निशाना और कहा कि जेएमएम के अभेद किला दुमका को लोकसभा चुनाव में ढाह दिया. जेएमएम के नेताओं ने सीएनटी-एसपीटी एक्ट का जमकर उल्लंघन किया

रघुवर दास (सीएम झारखंड)-70 साल का सपना मोदी सरकार ने पूरा किया. 70 साल तक किसी सरकार ने 370 को वापस लेने की हिम्मत नहीं दिखाई. 35A और 370 हटाने की हिम्मत किसी ने नही दिखाई. 370 झारखंड में हमारा चुनावी मुद्दा नहीं होगा. 370 राज्य के चुनाव का मुद्दा नही होगा क्योंकि राज्य और देश की जनता जानती है कि मोदी है तो मुमकिन है. देश और राज्य में परिवारवाद को जनता ने नकारा दिया है. राज्य और देश में परिवारवाद ने नुकसान पहुंचाया है. अब सिर्फ विकास की राजनीति चलेगी. धर्मांतरण कानून को लागू करके पाप नहीं किया. बल्कि मैंने संविधान का पालन किया. धर्मांतरण कानून को लागू कर कोई पाप नही किया. भय,लोभ देकर धर्म बदलवाने की इजाजत नही देता संविधान. हमारे पास सबसे अधिक कोयला है, फिर भी झारखंड अंधेरे में था. आज 30 लाख घरों में हमने बिजली पहुंचा दी है. जितना कोयला झारखण्ड के पास ,उतना कोयला किसी के पास नही ,2014 तक राज्य के 30 लाख घरों में बिजली नही था, हमारी सरकार ने हर घर मे बिजली दी. पहाड़ से लेकर उग्रवाद क्षेत्र तक बिजली पहुंचाई है.

रघुवर दास (सीएम झारखंड)- सरकार का ध्यान खेती पर भी है. डबल इंजन की सरकार के कारण झारखंड नया विधानसभा भवन बनकर तैयार होगा. 12 सितम्बर को पीएम मोदी करेंगे नए विधानसभा भवन का उद्घाटन. 12 सितम्बर को इस भवन का पीएम मोदी करेंगे. 12 सितम्बर को साहेबगंज से जलमार्ग शुरू हो जाएगा. डबल इंजन की सरकार के कारण झारखंड का नया विधानसभा भवन बनकर तैयार हो गया है. 12 सितम्बर को इस भवन का पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन...ये ब्रेकिंग है. पहले तारीख तय नहीं था, सीएम ने हमारे मंच पर किया ऐलान. कांग्रेस ने कभी आदिवासी और भगवान बिरसा मुंडा को याद नहीं किया. पीएम मोदी ने न सिर्फ याद किया बल्कि लाल किले से इनके बारे में ऐलान भी किया. मोदी जी अब देश व राज्य के नेता नहीं रहे, बल्कि दुनिया के नेता हो गये. प्रधानमंत्री मोदी वैश्विक नेता. मेरे चेहरे पर विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला पार्टी लेगी. मैं कार्यकर्ता की हैसियत से काम कर रहा हूं. राजनीति की अस्थिरता से नौकरशाही बेलगाम हो जाता है. राजनीतिक अस्थिरता के चलते अफसर बेलगाम हो जाते हैं. सियासी इच्छाशक्ति से हर काम मुमकिन.
Loading...

12 सितम्बर को इस भवन का पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन.


रघुवर दास (सीएम झारखंड)- जल है तो कल है, पीएम के इस अपील पर सभी को आगे आना चाहिए. विकास के राजनीतिक स्थिरता जरूरी. राजनीतिक अस्थिरता को राज्य की जनता ने झेला है. राजनीतिक अस्थिरता के चलते झारखंड के गरीब जनता को काफी नुकसान हुआ. झारखण्ड की जनता ने 2014 में पूर्ण बहुमत दिया. जनता ने पीएम मोदी की अपील पर 2014 में बीजेपी पर भरोसा जताया. राज्यवासियों का सपना सरकार पूरा कर रही है. अलग राज्य की अपेक्षाओं को हमारी सरकार पूरा कर रही है. इज ऑफ डूइंग में झारखंड आज चौथे स्थान पर. Ease ऑफ डूइंग बिज़नेस में झारखण्ड 4 नम्बर पर. सरकार नीतियों से चलती है. चार सालों में 67 हजार करोड़ का निवेश हुआ है

सीएम रघुवर दास को कार्यक्रम में सम्मानित किया गया


सीएम रघुवर दास को कार्यक्रम में सम्मानित किया गया. राज्यसभा सांसद परिमल नाथवानी को भी सम्मानित किया गया. भारतीय महिला हॉकी टीम की पूर्व कप्तान शुंता लकड़ा को सम्मान दिया गया. क्रिकेटर सौरव तिवारी को भी सम्मानित किया गया.

सुखदेव भगत (कांग्रेस नेता)-  झारखंड में एक भी कला महाविद्यालय नहीं है.

इरफान अंसारी (प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष)- मोदी जी से बैर नहीं, रघुवर दास का खैर नहीं. नौकरी देने के नाम पर झारखंड सरकार ने युवाओं को बाहर ले जाकर ड्राइवर बनाया. झारखंड के विकास के लिए यहां के आदिवासियों और मूलवासियों का विकास जरूरी.

अन्नपूर्णा देवी, बीजेपी सांसद- जल संचयन के लिए जन सहभागिता जरूरी है. इसीलिए भारत सरकार ने जल शक्ति विभाग ही बनाया है. हर मुहिम के लिए जन सहभगिता जरूरी. ग्राउंड वाटर को लेकर स्थिति चिंताजनक बनती जा रही है. केन्द्र और राज्य सरकार की ओर से जल संचयन के लिए जागरूक किए जा रहे हैं. केंद्र और राज्य सरकार वर्षा जल को बचाने में लगी है.विपक्ष को नजरिया बदलना चाहिए, सिर्फ विरोध के लिए विरोध नहीं होना चाहिए. रघुवर सरकार में हर क्षेत्र में विकास हुआ है. विपक्ष को नजरिया बदलना चाहिए, सिर्फ विरोध के लिए विरोध नहीं होना चाहिए.

पद्मश्री जमुना टुडू- 1998 से जंगल को बचाती आ रही हूं. सरकार और प्रशासन से इस दिशा में मदद मिली है. पीएम मोदी ने झारखंड से बाहर दूसरे राज्यों में भी जंगल बचाओ अभियान चलाना का आग्रह किया.

पद्मश्री अशोक भगत- आदिवासी जो चाहते है वह केवल अलग राज्य बनने से संभव नहीं हो सका. झारखंड आदिवासी संस्कृति से चलता है, लेकिन आदिवासी संस्कृति की समझ दुनिया में बनी नहीं.CSR को लेकर अभी तक संतोषजनक नही रहा. विपक्ष को आलोचना करना चाहिए, लेकिन विकास के लिए सभी को एकसाथ प्रयास करना चाहिए.

सीपी सिंह मंत्री- अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में पहली बार आदिवासी मंत्रालय बना. झारखंड में 26 प्रतिशत आदिवासी है. राज्य सरकार जनजातीय समुदाय के विकास के लिए काम कर रही है.जल संचयन के लिए राज्य सरकार ने दो लाख डोभा का निर्माण कराया है. मोदी है तो मुमकिन है, रघुवर दास है तो कोई भी चीज नामुमकिन नहीं है. पलायन रोकने के लिए सरकार ने मुर्गी पालन को बढ़ावा दिया है.पलामू से पलायन होकर रांची आया, इसलिए विधायक बन पाया

जारी है जर जंगल जमीन की जंग पर चर्चा


जारी है जर जंगल जमीन की जंग पर चर्चा

मंच पर पद्मश्री जमुना टुडू, पद्मश्री सिमोन उरांव और पद्मश्री अशोक भगत, मंत्री सीपी सिंह, कांग्रेस नेता सुखदेव भगत, बीजेपी सांसद अन्नपूर्णा देवी चर्चा कर रही हैं

राइजिंग झारखंड में बदला परिवेश,कैसा है निवेश पर चर्चा हो रही है

राज्यसभा सांसद परिमल नाथवानी ने न्यूज 18 को दिए साक्षात्कार में कहा है कि राजनीतिक स्थायित्व से हो रहा है झारखंड का विकास

गोपाल सिंह: CCL ने राज्य में स्पोर्ट्स अकादमी की स्थापना की हैझारखंड के खेल प्रतिभा को हम ओलिम्पिक के लिए तैयार कर रहा है CCL. झारखंड के खेल प्रतिभा को हम ओलिम्पिक के लिए तैयार कर रहे हैं.

गुणवंत सिंह मोंगिया(मोंगिया के सीएमडी): सरकार ने राज्य में इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए बहुत खर्च किया है. स्माल स्केल के उद्योग के लिए अलग नीति बनानी होगी.

राइजिंग झारखंड को पलायन झारखंड की ओर सरकार ले जा रही है.


राइजिंग झारखंड में बदला परिवेश, कैसा है निवेश पर चर्चा हो रही है.  गुणवंत सिंह मोंगिया ने कहा है कि स्मॉल स्केल के उद्योग के लिए अलग नीति बनानी होगी

(नया झारखंड कितना नया पर हो रही है चर्चा)

गीता कोडा- कार्यक्रम में दूसरे वक्ता के रूप में बोलते हुए कांग्रेस सांसद गीता कोड़ा ने कहा कि झारखंड के पास कई चुनौतियां हैं. उन्होंने कहा कि राजनीति में आने के बाद वो अपने घर को मिस नहीं करतीं.विपक्ष मजबूती के साथ चुनाव में जाने के लिए तैयार है. राइजिंग झारखंड को पलायन झारखंड की ओर सरकार ले जा रही है.सारंडा इलाके के गांवों में शौचालय बने नहीं लेकिन ओडीएफ का बोर्ड लग गया.आदिवासी- मूलवासी का मामला, स्कूलों के मर्जर, युवाओं को रोजगार, बिजली के मुद्दे कांग्रेस के अहम चुनावी मुद्दे होंगे

संजय सेठ, बीजेपी सांसद- देश की तरह झारखंड की भी तस्वीर और तकदीर बदली है.गरीबी खत्म करने वाला पहला राज्य झारखंड बना देश में. पांच सालों में झारखंड में एक दिन का बंद नहीं हुआ. न आर्थिक नाकेबंदी, न नक्सली बंदी. 152 बिजली सबस्टेशन बने पांच सालों में असंतोष जनता में नहीं विपक्ष के आंगन में है. हमारे लिए विकास और केवल विकास ही चुनाव मुद्दा होगा

देश की तरह झारखंड की भी तस्वीर और तकदीर बदली है.गरीबी खत्म करने वाला पहला राज्य झारखंड बना देश में.


डॉ महुआ माझी, जेएमएम नेत्री- गांव में ऊपर-ऊपर सब दिखता है, मंजिल अभी दूर है.बीजेपी चुनावी मुद्दों को बनाना जानती है, इसलिए हमें चुनावी हार मिलती है.पार्लियामेंट्री इलेक्शन में पुलवामा वाली घटना का लाभ bjp को मिला. बेरोजगारी, मानव तस्करी, सीएनटी- एसपीटी, शिक्षा, छात्र, किसान और महिलाओं के मुद्दे पर जेएमएम चुनाव लडेगा. महिलाओं को आरक्षण क्यों नही दे रही सरकार.

हरिवंश नारायण सिंह ने कहा कि समूह में कैसे समाज जीता है, ये आदिवासियों से सीख सकते हैं


हरिवंश नारायण सिंह (उपसभापति, राज्यसभा)- राइजिंग झारखंड कार्यक्रम में प्रथम वक्ता के तौर पर बोलते हुए राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने कहा कि समूह में कैसे समाज जीता है, ये आदिवासियों से सीख सकते हैं.  डीबीटी का लाभ झारखंड के लोगों को काफी हो रहा है. पिछले कुछ सालों में झारखंड ने काफी तेज से विकास किया है. राजनीतिक स्थिरता के कारण ये संभव हुआ है. झारखंड में महिलाओं की अग्रणी भूमिका जीवन में काफी पहले से रही है. झारखंड अपनी नियति किसी और रास्ते लिख सकता है. सत्ता में बैठे लोगों ने झारखंड जैसे मिनरल्स बहुल राज्यों को पीछे रखा. पहले भी डबल इंजन की सरकार रही हैं. लेकिन नीतियों के चलते झारखंड पीछे रहा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 28, 2019, 5:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...