• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • रांची: टेरर फंडिंग मामले में NIA ने इनामी नक्सलियों के खिलाफ दाखिल की पूरक चार्जशीट

रांची: टेरर फंडिंग मामले में NIA ने इनामी नक्सलियों के खिलाफ दाखिल की पूरक चार्जशीट

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) प्रतीकात्‍मक चित्र

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) प्रतीकात्‍मक चित्र

रांची में एनआईए की विशेष अदालत (NIA Court) में दाखिल आरोप पत्र में निजी कंपनी के पूर्व कर्मचारी मनोज कुमार के अलावा नक्सली कृष्णा दा उर्फ कृष्णा हांसदा, सुनील मांझी उर्फ सुनील मुर्मू और मनोज कुमार चौधरी पर लेवी वसूलने के आरोप लगाये गये हैं.

  • Share this:
    रांची. टेरर फंडिंग मामले (Terror Funding) में एनआइए (NIA) ने रामकृपाल कंस्ट्रक्शन के पूर्व कर्मी मनोज कुमार समेत चार माओवादियों के खिलाफ पहला पूरक आरोप पत्र (Supplementary Charge Sheet) दाखिल कर दिया. रांची में एनआईए की विशेष अदालत में दाखिल आरोप पत्र में मनोज कुमार के अलावा कृष्णा दा उर्फ कृष्णा हांसदा, सुनील मांझी उर्फ सुनील मुर्मू और मनोज कुमार चौधरी शामिल हैं. चारों आरोपी गिरिडीह जिले के रहने वाले हैं. इनमें से सिर्फ कृष्णा दा फरार चल रहे हैं. बाकी तीनों को एनआइए गिरफ्तार कर चुकी है. फरार कृष्णा दा सीपीआइ (माओवादी) के रीजनल कमेटी के सदस्य हैं. उस पर झारखंड सरकार ने 15 लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा है.

    पूरक आरोप पत्र में एनआइए ने बताया कि गिरिडीह जिले के डुमरी थाना क्षेत्र में 21 जनवरी 2018 को मनोज कुमार को छह लाख रुपये व संदिग्ध दस्तावेज के साथ गिरफ्तार किया गया था. इस मामले में डुमरी थाने में दूसरे दिन 22 जनवरी को प्राथमिकी दर्ज की गई. गिरिडीह पुलिस को छानबीन में पता चला कि मनोज कुमार के पास से बरामद रुपये ठेकेदारों से माओवादियों के नाम पर लेवी के तौर पर वसूले गए थे. आरोपी मनोज कुमार ने पूछताछ में पुलिस को बताया था कि वह माओवादियों के रीजनल कमेटी सदस्य कृष्णा दा के लिए लेवी वसूलता था. बाद में एनआइए ने 21 जुलाई 2018 को इस केस को टेक ओवर कर लिया.

    एनआइए की जांच में ये भी खुलासा हुआ कि मनोज कुमार माओवादियों और ठेकेदारों के बीच मध्यस्थ का काम करता था. और कृष्णा दा के लिए ठेकेदारों से लेवी वसूलता था. वह लेवी के रुपये लेकर कृष्णा दा के पास ही जा रहा था, जब उसकी गिरफ्तारी हुई थी. बाद में एनआईए ने इस सिलसिले में 15 लाख के इनामी नक्सली सुनील मांझी को भी गिरफ्तार कर लिया.




    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज