होम /न्यूज /झारखंड /बड़ी खराब बात है कि बिहार के लोग शराब पीने झारखंड आते हैं: नीतीश कुमार

बड़ी खराब बात है कि बिहार के लोग शराब पीने झारखंड आते हैं: नीतीश कुमार

जलजमाव पर मुख्य अभियंता सहित 11 पर गाज, दो दर्जन का वेतन बंद. (फाइल फोटो)

जलजमाव पर मुख्य अभियंता सहित 11 पर गाज, दो दर्जन का वेतन बंद. (फाइल फोटो)

बिहार (Bihar) के मुख्यमंत्री एवं जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने झारखंड में भी पूर्ण शराबबंदी ल ...अधिक पढ़ें

    बिहार (Bihar) के मुख्यमंत्री एवं जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने झारखंड में भी पूर्ण शराबबंदी लागू करने की बात दोहराते हुए शनिवार को यहां कहा कि यह कितनी खराब बात है कि बिहार में जो लोग शराब पीना चाहते हैं वे लोग शराब पीने के लिए झारखंड आते हैं. रांची में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि झारखंड में भी पूर्ण शराबबंदी लागू होनी चाहिए. इससे समाज की अनेक कुरीतियां समाप्त हो जाती हैं और सामाजिक ताना-बाना स्वस्थ और मजबूत होता है.

    राज्य में पूर्ण शराबबंदी की आवश्यकता है
    नीतीश कुमार ने झारखंड में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अपनी पार्टी की राज्य इकाई को उत्साहित करते हुए कहा कि उसे जनता के बीच में शराबबंदी के मुद्दे को जोर-शोर से ले जाना चाहिए. उन्होंने भाजपा की सरकार और मुख्यमंत्री का नाम लिए बिना कहा कि राज्य में पूर्ण शराबबंदी की आवश्यकता है अन्यथा यह बड़ी ही अशोभनीय बात है कि बिहार में शराब की लत वाले लोग शराब पीने के लिए झारखंड का रुख करते हैं.

    झारखंड के विकास के लिए दिए पांच मंत्र
    मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने झारखंड के विकास के लिए पांच मंत्र दिए. पहला सीएनटी एवं एसपीटी एक्ट में छेड़छाड़ न हो, दूसरा पूर्ण शराबबंदी लागू करना, तीसरा क्षेत्रीय विकास (मंडलवार) की रणनीति बनाना, चौथा पिछड़ों एवं अति पिछड़ों को 27 फीसद आरक्षण देने की व्यवस्था करना और अल्पसंख्यकों के विकास पर तेजी से काम करना.

    ये भी पढ़ें - 

    कमलनाथ के मंत्री ने कहा- 5 साल में पूरे करेंगे किए गए वादे, अभी खजाना खाली है
    थाने में घुसकर बदमाशों ने पुलिसवालों को जमकर पीटा, CCTV कैमरे में कैद हुई घटना

    Tags: Bihar News, Jharkhand news, Nitish kumar, Politics

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें