झारखंड में मैट्रिक- इंटर परीक्षा केन्द्रों पर तैनात होंगे नोडल पदाधिकारी, कोरोना को देखते हुए JAC की खास तैयारी

झारखंड में 4 मई से मैट्रिक और इंटर की परीक्षा होने वाली है.

झारखंड में 4 मई से मैट्रिक और इंटर की परीक्षा होने वाली है.

Matric- Inter Exam: झारखंड में मैट्रिक और इंटर की परीक्षा के लिए मात्र 100 केन्द्र बनाए गए हैं. कोरोना को देखते हुए इन केन्द्रों पर नोडल पदाधिकारी नियुक्त करने का आदेश दिया गया है.

  • Share this:
रांची. झारखंड में मैट्रिक और इंटर की परीक्षा (Matric- Inter Exam) 4 मई से होने वाली है. कॉपियों की जांच 15 जून तक से हो सकती है. और रिजल्ट जुलाई केअंत या अगस्त के पहले हफ्ते तक आ सकती है. इसको देखते हुए कोरोना गाइडलाइन (Corona Guideline) के मद्देनजर सभी परीक्षा केंद्रों पर नोडल पदाधिकारी नियुक्त करने का आदेश दिया गया है. इसके लिए सभी डीइओ को इसकी प्रक्रिया पूरी करने को कहा गया है. नोडल अधिकारी डीईओ को रिपोर्ट करेंगे.

झारखंड एकेडमिक कॉउंसिल के सचिव महीप कुमार सिंह के साथ शनिवार को हुई सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों की बैठक में यह निर्णय लिया गया है. बैठक में 4 मई से शुरू होने वाली मैट्रिक और इंटर की परीक्षाओं की तैयारियों की समीक्षा की गई. राज्य में मैट्रिक और इंटर की परीक्षा के लिए मात्र 100 केन्द्र बनाए गए हैं. एक नोडल पदाधिकारी को एक से अधिक परीक्षा केंद्रों की जिम्मेदारी दी जा सकती है. जिस केंद्र पर पहली बार परीक्षा होने वाली है, उसके अधीक्षक और शिक्षक को प्रशिक्षण दिया जाएगा. जिलों को प्रशिक्षण की जानकारी जैक को भी देने को कहा गया. जैक के प्रतिनिधि भी प्रशिक्षण में शामिल होंगे.

सभी परीक्षा केंद्र पर एक या दो कमरे रिजर्व रखने को कहा गया. अगर परीक्षा के दौरान किसी परीक्षार्थी में कोरोना के लक्षण देखे गये, तो उसे अलग से परीक्षा दिलाने की व्यवस्था की जाएगी. सभी डीइओ से कोरोना गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित कराने को कहा गया.

कोरोना संक्रमित होने की स्थिति में छात्र को इसकी जानकारी परीक्षा केंद्र के अधीक्षक को देनी होगी. बाद में जैक (JAC) की परीक्षा समिति इस पर निर्णय लेगी. कॉपियों की जांच के लिए डीइओ  से शिक्षकों के नाम मांगे गए हैं. मई में रिटायर हो रहे शिक्षकों के नाम कॉपियों के मूल्यांकन के लिए नहीं लिए जाएंगे.
.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज