झारखंड में Corona संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 217, अब तक 113 लोग इलाज के बाद हुए स्वस्थ

इनमें से 113 लोग इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि 101 का अभी कोरोना वायरस संक्रमण के लिए इलाज चल रहा है.  (सांकेतिक फोटो)
इनमें से 113 लोग इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि 101 का अभी कोरोना वायरस संक्रमण के लिए इलाज चल रहा है. (सांकेतिक फोटो)

Jharkhand COVID-19 Update: हजारीबाग (Hazaribagh) में 3 और रांची, गढ़वा व जमशेदपुर में कोरोना वायरस के एक-एक मामले सामने आए हैं.

  • Share this:
रांची. झारखंड लौटे प्रवासी श्रमिकों एवं अन्य लोगों के कारण कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण बढ़ने का क्रम जारी है. शनिवार को भी राज्य में छह नए कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए हैं. इसके साथ ही अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 217 हो गई है. राज्य सरकार द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, शनिवार को आए 6 नए मामलों में से हजारीबाग (Hazaribagh) में तीन और रांची, गढ़वा तथा जमशेदपुर में एक-एक मामले सामने आए हैं.

बुलेटिन के अनुसार, अब तक रांची में कुल 103, बोकारो में 10, हजारीबाग में 24, धनबाद में 5, गिरिडीह में 10, सिमडेगा में दो, कोडरमा में छह, देवघर में चार, गढ़वा में 28, पलामू में 15, जामताड़ा में दो, गोड्डा में एक, दुमका में दो, जमशेदपुर में चार और लातेहार में एक व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित हुआ है. इनमें से 113 लोग इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि 101 का अभी कोरोना वायरस संक्रमण के लिए इलाज चल रहा है. वहीं तीन लोगों की अभी तक संक्रमण से मौत हुई है.

संक्रमण की दर हुई दोगुनी
जानकारी के मुताबिक, राज्य में 1 मई से कोरोना मरीजों के मिलने की रफ्तार बढ़ गई है. 31 मार्च को राज्य में पहला कोरोना मरीज रांची के हिंदपीढ़ी में मलेशियाई महिला के रूप में मिला था. 31 मार्च से 30 अप्रैल कुल 110 मरीज मिले. इस दौरान औसतन 3.45 मरीज रोज मिले. वहीं एक मई से 16 मई तक औसतन प्रतिदिन 7.66 मरीज मिले हैं. इस दौरान कुल 115 मरीज मिले हैं.
देश में लगातार बढ़ रहे संक्रमित


पूरे देश की बात करें तो कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या शनिवार को 90,000 के पार पहुंच गई. उत्तर में जम्मू-कश्मीर से लेकर दक्षिण में केरल और ओडिशा, बिहार सहित तमाम राज्यों में कोविड-19 के नए मामले आए हैं. आंकड़ों का विश्लेषण करें तो नये मामलों में ज्यादातर उन लोगों से जुड़े हैं, जो विदेश से लौट रहे हैं या देश के बड़े शहरों से अपने-अपने घर पहुंच रहे हैं. इस तरह वे इस घातक कोरोना वायरस संक्रमण को अपने साथ गांवों तक लेकर जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- 

बंदर भगाने वाला निकला कोरोना पॉजिटिव, रेल भवन के कई अधिकारी क्वारंटाइन

Lockdown के बाद दिल्ली मेट्रो में कैसा होगा सफर, जानिए 10 प्वाइंट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज