देसी- विदेशी पर्यटकों को भाने लगा झारखंड, दो सालों में दोगुना इजाफा

बैठक में मुख्य रूप से जमीन की दाखिल- खारिज के कामों की समीक्षा की गई. यह शिकायत रही है कि दाखिल- खारिज के मामलों में अंचल स्तर पर शिकायतें आती रहती हैं. इसको लेकर गड़बड़ियां भी होती रही हैं.

News18 Jharkhand
Updated: July 8, 2019, 8:54 PM IST
देसी- विदेशी पर्यटकों को भाने लगा झारखंड, दो सालों में दोगुना इजाफा
बैठक में मुख्य रूप से जमीन की दाखिल- खारिज के कामों की समीक्षा की गई. यह शिकायत रही है कि दाखिल- खारिज के मामलों में अंचल स्तर पर शिकायतें आती रहती हैं. इसको लेकर गड़बड़ियां भी होती रही हैं.
News18 Jharkhand
Updated: July 8, 2019, 8:54 PM IST
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने अगले सौ दिनों के लिए विभागों को टास्क दिए हैं. इसके तहत राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग को भी महत्वपूर्ण टास्क दिये गये. पर्यटन के क्षेत्र में चल रही योजनाओं को भी समय पर पूरा करने का निर्देश दिया गया. मुख्यमंत्री ने सोमवार को तीन विभागों के कामकाज की समीक्षा की.

जमीन की दाखिल- खारिज के काम होंगे तेज

सीएम रघुवर दास ने प्रोजेक्ट भवन में राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के कामकाज की समीक्षा की. इस बैठक में विभागीय मंत्री अमर बाउरी, मुख्य सचिव डीके तिवारी और विभागीय सचिव केके सोन भी मौजूद रहे. बैठक में मुख्य रूप से जमीन की दाखिल- खारिज के कामों की समीक्षा की गई. यह शिकायत रही है कि दाखिल- खारिज के मामलों में अंचल स्तर पर शिकायतें आती रहती हैं. इसको लेकर गड़बड़ियां भी होती रही हैं. वैसे आनलाइन हो जाने के कारण इसमें सुधार आया है. फिर भी इसमें गति लाने की जरूरत है. इसको देखते हुए सीएम ने इस बैठक में कई निर्देश दिये.

सीएम ने दिये ये निर्देश

1.दाखिल- खारिज के लंबित मामलों का निष्पादन करें.
2. क्षेत्र में कैंप लागकर दाखिल- खारिज के लंबित मामला निबटाएं.
3. एक रुपये में महिलाओं की अचल संपति की रजिस्ट्री योजना का व्यापक प्रचार करें.
Loading...

4. लैंड बैंक से उन निवेशकों को जमीन उपलब्ध कराएं, जो मांग रखते हों.
5. पारिवारिक संपत्ति की 50 रुपये में रजिस्ट्री की योजना का प्रचार-प्रसार करें.

देसी- विदेशी पर्यटकों की संख्या बढ़ी

दूसरी समीक्षा बैठक पर्यटन, कला एवं संस्कृति, खेल एवं युवा विभाग की हुई. इस बैठक में भी विभाग की एक- एक योजनाओं की समीक्षा की गई. सरकार सूबे को पर्यटन हब बनाना चाहती है. इसके लिए कई काम हुए हैं. राज्य में आने वाले देसी और विदेशी पर्यटकों की संख्या पिछले दिनों बढ़ी हैं. मसलन, 2015-16 में देसी पर्यटकों की संख्या मात्र 1 करोड़ 80 लाख थी. यह 2018- 19 में बढ़कर 3 करोड़ 50 लाख हो गई है. वहीं 2015- 16 में विदेशी पर्यटकों की संख्या मात्र 76 हजार थी. 2018-19 में यह बढ़कर एक लाख 80 हजार हो गई.

श्रावणी मेले की तैयारी पर भी चर्चा

रांची से सटे पतरातू में डैम के किनाके पर्यटन प्रोजेक्ट बनकर तैयार है. देवघर के श्रावणी मेला की तैयारी की भी इस बैठक में चर्चा हुई. सीएम ने श्रावणी मेले के दौरान कांवरियों की हर सुविधाओं का विशेष ध्यान रखने का निर्देश दिया. साथ ही कांवरिया पथ की सुरक्षा व्यवस्था की भी जानकारी ली. मंगलवार को देवघर में श्राइन बोर्ड की बैठक में तैयारियों की पूरी समीक्षा होगी.

रिपोर्ट- राजेश कुमार

ये भी पढ़ें- झारखंड में मॉनसून की बेरुखी, जून में 61 फीसदी कम हुई बारिश

रांची के इस आश्रम में एक बूंद पानी भी नहीं जाता नाले में

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 8, 2019, 8:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...