Home /News /jharkhand /

झारखंड: 80 साल के 'किशन दा' की तरह इन 114 नक्सलियों पर है 10 करोड़ रुपये से ज्यादा का इनाम, देखें पूरी लिस्ट

झारखंड: 80 साल के 'किशन दा' की तरह इन 114 नक्सलियों पर है 10 करोड़ रुपये से ज्यादा का इनाम, देखें पूरी लिस्ट

बीते लगभग पांच दशक से नक्सल गतिविधियों से शामिल प्रशांत बोस को पुलिस ने उनकी पत्नी और चार सहयोगियों के साथ गिरफ्तार किया है

बीते लगभग पांच दशक से नक्सल गतिविधियों से शामिल प्रशांत बोस को पुलिस ने उनकी पत्नी और चार सहयोगियों के साथ गिरफ्तार किया है

Anti Naxal Operation in Jharkhand: झारखंड सरकार (Jharkhand Government) के गृह कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने प्रशांत बोस (Prashant Bose) सहित चार नक्सलियों पर एक करोड़ का इनाम रख रखा है. 114 नक्सलियों पर एक लाख रुपये से लेकर एक करोड़ रुपये तक इनाम है. इस तरह तकरीबन 10 करोड़ से भी ज्यादा रुपये आने वाले दिनों में झारखंड सरकार इन नक्सलियों को पकड़ने पर खर्च करेगी.

अधिक पढ़ें ...

रांची. पिछले दिनों झारखंड पुलिस (Jharkhand Police) ने प्रतिबंधित नक्सली संगठन (Naxali Organization) भाकपा-माओवादी (CPI-Maoist) के ईस्टर्न रीजनल ब्यूरो के सचिव प्रशांत बोस उर्फ किशन दा (Prashant Bose alias Kishan Da) उर्फ मनीष उर्फ बूढ़ा को पत्नी सहित गिरफ्तार किया था. प्रसांत बोस पांच राज्यों का माओवादियों के पोलित ब्यूरो का सदस्य है और उस पर एक करोड़ रुपये का इनाम भी था. प्रशांत चार दशकों से कई राज्यों की पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था. बता दें कि झारखंड सरकार के गृह कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने प्रशांत बोस सहित चार नक्सलियों पर एक करोड़ का इनाम रख रखा है. राज्य सरकार ने 114 नक्सलियों पर एक लाख रुपये से लेकर एक करोड़ रुपये तक इनाम रख रखा है. इस तरह तकरीबन 10 करोड़ से भी ज्यादा रुपये आने वाले दिनों में झारखंड सरकार ने इन नक्सलियों को पकड़ने पर खर्च करेगी.

गौरतलब है कि पिछले दिनों झारखंड पुलिस ने गिरीडीह-सरायकेला रोड पर से एक स्कॉर्पियो से 80 साल का एक बुजुर्ग और उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया था. इस बुजुर्ग के साथ में दो बॉडीगार्ड भी था. झारखंड पुलिस की तफ्तीश में पता चला कि यह और कोई नहीं बल्कि 4 दशक में कई नक्सली वारदात को अंजाम देने वाला और कई कांडों का शतक लगा चुका एक करोड़ का इनामी प्रशांत बोस उर्फ किशन दा उर्फ मनीष उर्फ बूढ़ा है.

Prashant Bose alias Kishan Da, Jharkhand Police, ranchi hindi samachar, ranchi hindi news, rewarded naxal list, crpf, jharkhand news update, jharkhand naxal, naxalite in jharkhand, Is Ranchi Naxalite area, How do Naxalites get weapons, Are Naxalites good or bad, jharkhand google news, naxal news update, plfi, tpc naxals, झारखंड में नक्सली, झारखंड के नक्सल प्रभावित जिले, रांची हिंदी समाचार, झारखंड की ताजा खबर, झारखंड पुलिस, प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा-माओवादी, ईस्टर्न रीजनल ब्यूरो के सचिव प्रशांत बोस, किशन दा, मनीष, बूढ़ा, नक्सलियों पर 10 करोड़ का इनाम,

प्रशांत की गिरफ्तारी सरायकेला-खरसावां जिले से हुई थी. (सांकेतिक तस्वीर)

यहां से हुई प्रशांत की गिरफ्तारी
प्रशांत की गिरफ्तारी सरायकेला-खरसावां जिले से हुई थी. प्रशांत बोस पांच राज्यों झारखंड, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और महाराष्ट्र का प्रमुख है. हाल के दिनों में झारखंड पुलिस को नक्सलियों और माओवादियों के खिलाफ लगातार सफलता मिल रही है. इससे राज्य में नक्सल इलाके कम होते जा रहे हैं, साथ ही पहले जैसी नक्सली घटनाएं भी कम हो गई हैं.

किशन दा माओवादियों की शीर्ष सेंट्रल कमेटी का सदस्य हैं
प्रशांत की पत्नी शीला भी माओवादियों की शीर्ष सेंट्रल कमेटी की सदस्य है. साथ ही माओवादियों के फ्रंटल आर्गेनाइजेशन नारी मुक्ति संघ की प्रमुख भी है. शीला गिरिडीह की रहने वाली है और उसका भी संगठन में काफी प्रभाव है, जबकि प्रशांत पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले के रहने वाला है.

Prashant Bose alias Kishan Da, Jharkhand Police, ranchi hindi samachar, ranchi hindi news, rewarded naxal list, crpf, jharkhand news update, jharkhand naxal, naxalite in jharkhand, Is Ranchi Naxalite area, How do Naxalites get weapons, Are Naxalites good or bad, jharkhand google news, naxal news update, plfi, tpc naxals, झारखंड में नक्सली, झारखंड के नक्सल प्रभावित जिले, रांची हिंदी समाचार, झारखंड की ताजा खबर, झारखंड पुलिस, प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा-माओवादी, ईस्टर्न रीजनल ब्यूरो के सचिव प्रशांत बोस, किशन दा, मनीष, बूढ़ा, नक्सलियों पर 10 करोड़ का इनाम,

प्रशांत की पत्नी शीला भी माओवादियों की शीर्ष सेंट्रल कमेटी की सदस्य है. (फाइल फोटो)

क्या कहते हैं जानकार
नक्सली मामले के जानकार और वरिष्ठ पत्रकार सुनील पांडेय कहते हैं, ‘किशन दा 80 साल को हो गया है. उसका हाथ-पैर भी अब ठीक से काम नहीं कर रहा होगा. खबर है कि दो-तीन साल पहले वह लकवाग्रस्त बी हो गया था. रही बात उसकी पत्नी शीला की तो उसकी भी उम्र 70 साल से ज्यादा ही हुई होगी. ऐसी स्थिति में इस गिरफ्तारी को मैं एक सुनियोजित मान रहा हूं. क्योंकि, जंगल में तो इलाज होगा नहीं. इसलिए गिरफ्तारी दे कर वह अपना इलाज पुलिस की सुरक्षा में कराना चाहता होगा. वैसे भी उसकी नक्सली गतिविधियों में संलिप्तता न के बराबर ही रह गई थी.’

एक करोड़ के कितने इनामी नक्सली झारखंड में है?
गौरतलब है कि झारखंड में किशन दा की तरह तीन और नक्सली है, जिस पर राज्य सरकार ने एक करोड़ रुपये का इनाम रख रखा है. मिसिर बेसरा उर्फ भास्कर उर्फ सुनिर्मल जी उर्फ सागर, असीम मंडल उर्फ आकाश उर्फ तिमिर और अनल दा उर्फ तुफान उर्फ पतिराम मांझी उर्फ पतिराम मराण्डी उर्फ रमेश पर भी एक करोड़ रुपये का इनाम है.

Prashant Bose alias Kishan Da, Jharkhand Police, ranchi hindi samachar, ranchi hindi news, rewarded naxal list, crpf, jharkhand news update, jharkhand naxal, naxalite in jharkhand, Is Ranchi Naxalite area, How do Naxalites get weapons, Are Naxalites good or bad, jharkhand google news, naxal news update, plfi, tpc naxals, झारखंड में नक्सली, झारखंड के नक्सल प्रभावित जिले, रांची हिंदी समाचार, झारखंड की ताजा खबर, झारखंड पुलिस, प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा-माओवादी, ईस्टर्न रीजनल ब्यूरो के सचिव प्रशांत बोस, किशन दा, मनीष, बूढ़ा, नक्सलियों पर 10 करोड़ का इनाम,

झारखंड सरकार ने इसी तरह सात नक्सलियों पर 25-25 लाख रुपये का इनाम रख रखा है.

ये भी पढ़ें: अब महंगे टमाटर ने बिगाड़ा जायका, भाव पहुंच गया 150 के पार, लोग पूछ रहे हैं…

झारखंड सरकार ने इसी तरह सात नक्सलियों पर 25-25 लाख रुपये का इनाम रख रखा है. 16 नक्सलियों पर 15-15 लाख रुपये का इनाम है. 17 नक्सलियों पर 10 लाख रुपये का इनाम है. 30 नक्सलियों पर 5-5 लाख रुपये का इनाम है. 14 नक्सलियों पर 2-2 लाख रुपये का इनाम है और 25 नक्सलियों पर एक-एक लाख रुपये का इनाम है.

Tags: Anti naxal operation, Home ministry, Jharkhand Police, Naxal Movement in India, Naxal terror, Naxalites news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर