Home /News /jharkhand /

लोकसभा में फिर उठा भारत-इंडिया का मुद्दा, बीजेपी सांसद ने हिन्दुस्तान नाम पर भी उठाये सवाल

लोकसभा में फिर उठा भारत-इंडिया का मुद्दा, बीजेपी सांसद ने हिन्दुस्तान नाम पर भी उठाये सवाल

बीजेपी सांसद संजय सेठ ने देश का नाम सिर्फ भारत करने का आग्रह किया.

बीजेपी सांसद संजय सेठ ने देश का नाम सिर्फ भारत करने का आग्रह किया.

Jharkhand News: बीजेपी सांसद संजय सेठ ने कहा कि जब अंग्रेजों को हिंदुस्तान कहने-बोलने में परेशानी हुई, तो उसने सिंधु घाटी जिसे कभी इंदु वैली भी कहा जाता था, उससे प्रभावित होकर भारत को इंडिया के नाम से पुकारा. ऐसे में विदेशियों के द्वारा दिए गए नाम से प्रभावित होकर India That is Bharat कहना भारत जैसे विशाल देश और उसकी महान गौरवशाली संस्कृति का अपमान है.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट- सुनील कुमार

    रांची. लोकसभा सत्र के दौरान रांची के सांसद संजय सेठ ने सरकार के समक्ष देश का नाम सिर्फ भारत रखने का आग्रह किया. लोकसभा में बोलते हुए सांसद सेठ ने कहा कि जब इस देश का नाम अनादि काल से भारत रहा है, तो फिर India that is Bharat कहने और लिखने या बोलने की जरूरत ही क्यों हैं. हमें हर चीजों के लिए अंग्रेजों से उधार लेने की आवश्यकता क्यों. मध्यकाल में सिंधु को जब तुर्की और ईरानी सिंधु नहीं कह पाए तो उन्होंने इसे हिंदू कहा और इस प्रकार देश का नाम भारत होने के बावजूद हिंदुस्तान हो गया, जिसे हम हिंदुस्तान कहने लगे.

    उन्होंने कहा कि जब अंग्रेजों को हिंदुस्तान कहने-बोलने में परेशानी हुई, तो उसने सिंधु घाटी जिसे कभी इंदु वैली भी कहा जाता था, उससे प्रभावित होकर भारत को इंडिया के नाम से पुकारा. ऐसे में विदेशियों के द्वारा दिए गए नाम से प्रभावित होकर India That is Bharat कहना भारत जैसे विशाल देश और उसकी महान गौरवशाली संस्कृति का अपमान है.

    सदन में बोलते हुए सांसद ने कहा कि ऐसे भी देखा जाए तो अंग्रेजों के द्वारा इंडिया कहने के पूर्व इस देश का नाम मनीषियों ने कई नामों से पुकारा, भारतवर्ष, आर्यावर्त, ब्रह्मावर्त, जम्बूद्वीप, आदि ऐसे नाम भारतीय ग्रंथों में दिए गए. ऐसे गौरवशाली नामों को विस्मृत कर भारत का पर्याय इंडिया को बना देना, फिर इंडिया नाम को ही सार्वभौमिकता प्रदान करते हुए India That is Bharat कहना न्याय संगत नहीं है.

    उन्होंने सदन के माध्यम से सरकार से आग्रह किया कि भारत का नाम सिर्फ भारत हो. India That is Bharat कहने और लिखने की परंपरा  समाप्त हो. संविधान में लिखे गए ऐसे वाक्यों में सुधार हो और भारत को सिर्फ भारत के नाम से ही हम जानें, इस दिशा में काम किया जाए.

    Tags: BJP, Jharkhand news, Ranchi news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर