• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • ऑक्सीजन की कमी से मौतों का मुद्दा, BJP ने कहा झारखंड सरकार दोषी, मंत्री ने कहा ऑडिट होगा

ऑक्सीजन की कमी से मौतों का मुद्दा, BJP ने कहा झारखंड सरकार दोषी, मंत्री ने कहा ऑडिट होगा

ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों को लेकर झारखंड ने ऑडिट करवाने की बात कही.

ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों को लेकर झारखंड ने ऑडिट करवाने की बात कही.

BJP vs Jharkhand Govt : उस बयान के बाद राजनीति गर्मा गई है, जिसमें ऑक्सीजन की कमी से मौतें न होने के आंकड़े का ठीकरा राज्यों के सिर फोड़ दिया गया. अब झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री ने इन मौतों के मामले में ऑडिट की बात कही है, तो वहीं भाजपा हमलावर है.

  • Share this:
रांची. 'कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के प्रकोप के समय में देश भर में ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई...' संसद में केंद्रीय मंत्री के इस बयान के बाद झारखंड में इस मुद्दे पर घमासान मच गया है. चूंकि केंद्र सरकार ने यह दावा भी कर दिया कि केंद्र का बयान राज्यों से मिले फैक्ट्स के आधार पर है इसलिए अब झारखंड में विपक्षी पार्टी बीजेपी ने हेमंत सोरेन सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि कोरी बयानबाजी की जा रही है, सही आंकड़ा नहीं दिया जा रहा. वहीं, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों के लिए सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ज़िम्मेदार बताया है.

'ऑडिट कराएंगे', क्या है राज्य सरकार का पक्ष?
अस्पतालों में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की कमी से कोविड मरीज़ों की मौतों के मामले ने तूल पकड़ा तो झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा, 'पीएम मोदी अकेले ही इसके लिए ज़िम्मेदार हैं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को तो बलि का बकरा बनाया गया. लोग यह सब कभी स्वीकार नहीं करेंगे.' ऑक्सीजन की कमी से मौतों के मामले में केंद्र के बयान पर गुप्ता ने यह प्रतिक्रिया दी. इसके बाद उन्होंने झारखंड का रुख भी स्पष्ट किया.

ये भी पढ़ें : धनबाद में NH-2 पर भीषण हादसे में दो की मौत, जबरदस्त टक्कर के बाद वाहन जले, देखें VIDEO

गुप्ता ने कहा कि झारखंड सरकार यह ऑडिट करवा रही है कि कोविड मरीज़ों की मौतों के आंकड़े में से कितने मामले ऐसे थे, जिनमें ऑक्सीजन की शॉर्टेज की वजह से मौत हुई. गुप्ता के मुताबिक 'ग्रामीण इलाकों तक ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं हो सकी. हम कोविड मौतों का ऑडिट करवा रहे हैं. सेकंड वेव के दौरान देश भर में जितनी मौतें हुईं, उनमें से ज़्यादातर के पीछे ऑक्सीजन ही कारण रही.'

jharkhand news, jharkhand politics, jharkhand oxygen crisis, corona in jharkhand, झारखंड न्यूज़, झारखंड राजनीति, झारखंड ऑक्सीजन संकट, झारखंड में कोरोना
ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों के मामले में झारखंड भाजपा ने राज्य सरकार पर निशाना साधा.


'राज्य सरकार खुलासा करे कि क्या रिपोर्ट भेजी'
झारखंड सरकार को अपनी रिपोर्ट बतानी चाहिए कि उनका आंकड़ा क्या है? उन्होंने केंद्र को क्या रिपोर्ट भेजी है? ये सवाल रखते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश भाजपा ने राज्य सरकार के कुप्रबंधन को पहले दिन से उजागर किया. 'केंद्र सरकार ने हर संभव सहायता उपलब्ध कराई लेकिन राज्य सरकार ठीक प्रबंधन नहीं कर सकी. एक साल पहले स्वीकृत ऑक्सीजन प्लांट स्थापित नहीं किए गए, वेंटीलेटरों को कबाड़ में फेंक दिया गया.' प्रदेश भाजपा ने कहा कि राज्य सरकार का सिर्फ एक एजेंडा है, अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए केंद्र पर दोष मढ़ दिया जाए.

ये भी पढ़ें : धनबाद में कचरे में कन्या भ्रूण मिलने से सनसनी, अस्पतालों पर कार्रवाई की मांग

न्यूज़18 के रांची संवाददाता निरंजन कुमार सिंह की रिपोर्ट के मुताबिक झारखंड भाजपा ने झामुमो और कांग्रेस गठबंधन वाली राज्य सरकार पर यह भी आरोप लगाया कि आपदा में राज्य दोषारोपण की राजनीति करता रहा. सरकार स्वास्थ्य सुविधा के बदले कफन बांटने का निर्णय लेती रही. बकौल भाजपा पदाधिकारी, 'आज ऑक्सीजन की कमी से मौत पर बयानबाजी करने वाले वही लोग हैं, जो केंद्र से भेजी गई ऑक्सीजन ट्रेन को हरी झंडी दिखा रहे थे.'

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज