रांची: घरेलू गैस लेने मैदान में जमा हुए 300 लोग, लॉकडाउन की उड़ी धज्जियां

लॉकडाउन में गैस सिलेंडर की होम डिलीवरी नहीं होने से लोगों की काफी परेशानी हो रही है.
लॉकडाउन में गैस सिलेंडर की होम डिलीवरी नहीं होने से लोगों की काफी परेशानी हो रही है.

सिलेंडर (Gas Cylinder) लेने पहुंचे विजय कुमार ने बताया कि तीन दिन पहले नंबर लगाने के बावजूद उन्हें गैस की होम डिलीवरी (Home Delivery) नहीं मिली. बुजुर्ग महिला पार्वती देवी ने कहा कि चार दिन से गैस खत्म है. इससे खाना-पीना बनाने में काफी परेशानी हो रही है.

  • Share this:
रांची. कोरोना लॉकडाउन (Corona Lockdown) के बीच लोगों को सुविधा देने के प्रशासनिक दावे फेल नजर आ रहे हैं. खासकर गैस सिलेंडर (Gas Cylinder) को लेकर लोगों को ज्यादा परेशानी हो रही है. शुक्रवार को राजधानी के हेसाग-हटिया स्थित डॉन बॉस्को मैदान में तीन से ज्यादा लोगों गैस सिलेंडर लेने के लिए पहुंचे. ये सभी सिलेंडर की होम डिलीवरी (Home Delivery) नहीं होने से नाराज थे. लॉकडाउन के बावजूद इतने लोगों के पहुंचने पर स्थिति संभालने के लिए पुलिस (Police) को काफी मशक्कत करनी पड़ी.

हालांकि गैस वितरक औरंगजेब ने बताया कि गैस एजेंसी की तरफ से हर दिन सिलेंडर की होम डिलीवरी की जा रही है. शुक्रवार को उपभोक्ताओं की संख्या के मुकाबले सिलेंडर कम पड़ गए. लिहाजा लोग मैदान पहुंचकर नाराजगी जाहिर करने लगे.

पुलिस ने होम डिलीवरी का दिलाया भरोसा



पुलिस को इस भीड़ को कंट्रोल करने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. पुलिस लोगों से घर जाने की अपील कर सिलेंडर की होम डिलीवरी का आश्वासन दिया. सिलेंडर लेने पहुंचे विजय कुमार ने बताया कि तीन दिन पहले नंबर लगाने के बावजूद उन्हें गैस की होम डिलीवरी नहीं मिली. बुजुर्ग महिला पार्वती देवी ने कहा कि चार दिन से गैस खत्म है. इससे खाना-पीना बनाने में काफी परेशानी हो रही है.
पंडरा बाजार में नहीं दिखी सोशल डिस्टेंसिंग 

इधर, पंडरा बाजार समिति शुक्रवार को खुदरा विक्रेताओं के लिए खुला. बाजार खुलते ही खुदरा विक्रेताओं की भीड़ उमड़ पड़ी. भीड़ की वजह से सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गईं. कई दुकानों में सैनिटाइजर की व्यवस्था नहीं थी. इसलिए जिला प्रशासन ने इन दुकानों को बंद करा दिया. इस सबके बीच रांची पुलिस का मानवीय चेहरा भी सामने आया. पुलिस ने डोरंडा इलाके में गरीबों और जरूरतमंदों के बीच खाना का वितरण किया.

रिपोर्ट- संजय सिन्हा, ओमप्रकाश

ये भी पढ़ें- कोरोना को हराने में हर तरफ से सहयोग, CM ने दिये 25 लाख, इन्होंने भी बढ़ाए हाथ

झारखंड में थाने में मिलेगा गरीबों को खाना, सेंट्रलाइज्ड किचन की व्यवस्था

 

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज