रांची में जीरो पावर कट अभी दूर की कौड़ी, हर माह 110 करोड़ का घाटा सह रहा जेबीवीएनएल

जेबीवीएनएल के एमडी राहुल पुरवार ने कहा कि बिजली के शट डाउन के कई कारण हैं. राजधानी में अंडरग्राउंड केबलिंग का काम चल रहा है. खराब मौसम के कारण भी बिजली की आपूर्ति बंद करनी पड़ती है.

Rajesh Kumar | News18 Jharkhand
Updated: August 7, 2019, 10:32 PM IST
रांची में जीरो पावर कट अभी दूर की कौड़ी, हर माह 110 करोड़ का घाटा सह रहा जेबीवीएनएल
रांची में जीरो पावर कट का सपना अभी दूर की कौड़ी
Rajesh Kumar | News18 Jharkhand
Updated: August 7, 2019, 10:32 PM IST
रांचीवासियों के लिए जीरो पावर कट का सपना अभी दूर की कौड़ी मालूम पड़ रही है. जबकि यह उम्मीद की जा रही थी कि राजधानी में जुलाई के बाद निर्बाध बिजली आपूर्ति होने लगेगी. इसके लिए पिछले दिनों मुख्यमंत्री रघुवर दास ने झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड (जेबीवीएनएल) के अधिकारियों को मोहलत दी थी. लेकिन तय समय पर काम पूरा नहीं हो पाया है. जेबीवीएनएल के एमडी राहुल पुरवार ने सूचना भवन में पत्रकारों से कहा कि बिजली के शट डाउन के कई कारण हैं. राजधानी में अंडरग्राउंड केबलिंग का काम चल रहा है. खराब मौसम के कारण भी बिजली की आपूर्ति बंद करनी पड़ती है.

जेबीवीएनएल को हर माह 110 करोड़ का घाटा

राहुल पुरवार ने कहा कि लोकल फाल्ट के तहत फ्यूज उड़ना और जंफर टूटना, जैसी घटनाएं अब कम हुई हैं. आगे इसमें और सुधार आएगा. बिजली वितरण निगम की ओर से जरुरत से अधिक क्षमता वाले ट्रांसफार्मर लगाए गये हैं. साथ ही कहा कि निगम को प्रत्येक माह लगभग 110 करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है. 520 करोड़ रुपये प्रत्येक माह बिजली खरीदने और अन्य संस्थागत चीजों में खर्च होता है. जबकि इसके एवज में मात्र 410 करोड़ प्रतिमाह राजस्व निगम को मिलता है. इस नुकसान को कम करने के प्रयास हो रहे हैं.

टीवीएनएल से बिहार को भी मिलेगी बिजली 

ऊर्जा सचिव वंदना दादेल ने कहा कि तेनुघाट विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड (टीवीएनएल) के स्वामित्व का मामला निबट गया है. बिहार और झारखंड के बीच सहमति बन गई है. यहां से उत्पादित बिजली का 40 प्रतिशत हिस्सा बिहार को दिया जाएगा. बाकी अब इसके विस्तारीकरण की योजना पर काम शुरू होगा.

ये भी पढ़ें- पंजाब सीएम की पत्नी से 23 लाख की ठगी, जामताड़ा में पकड़ाया आरोपी

पहचान छिपाकर रह रहा था PLFI एरिया कमांडर, दो साथियों के साथ हुआ गिरफ्तार    

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 7, 2019, 10:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...