रिम्स में आयुष्मान भारत योजना की पायलट टेस्टिंग की शुरुआत

आयुष्मान भारत योजना की पायलट टेस्टिंग की शुरुआत
आयुष्मान भारत योजना की पायलट टेस्टिंग की शुरुआत

रिम्स में सोमवार से कियोस्क काम करने लगा है, जहाँ इस योजना के लाभुकों को सभी प्रकार की जानकारी दी जाएगी.

  • Share this:
रांची के रिम्स में स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने सरकार की महत्वकांक्षी आयुष्मान भारत योजना की पायलट टेस्टिंग की शुरुआत की. इस योजना में सभी लाभुक श्रेणी के परिवारों को सालाना 5 लाख तक का कैशलेस स्वास्थ्य बीमा कराया जा सकता है. इस योजना के तहत मरीज किसी भी राज्य में बीमा योजना का फायदा उठा सकते हैं.

रिम्स में सोमवार से कियोस्क काम करने लगा है, जहाँ इस योजना के लाभुकों को सभी प्रकार की जानकारी दी जाएगी. इस योजना के अंतर्गत राज्य के वैसे परिवार, जो राशन कार्ड धारी हैं, योजना का लाभ ले सकते हैं. योजना में पूर्व की राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना की तरह किसी प्रकार का स्मार्ट कार्ड नहीं बनाया जाएगा. ना ही लाभुक परिवार से किसी प्रकार का शुल्क लिया जाएगा.

मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना को आयुष्मान भारत के साथ हाइब्रिड मॉडल पर चलाने का निर्णय लिया गया है, जिसके अंतर्गत एक लाख तक का स्वास्थ्य बीमा का लाभ सरकारी स्वास्थ्य बीमा प्रदाता नेशनल इंश्योरेंस कंपनी देगा. साथ ही एक लाख से अधिक 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा लाभ इंप्लीमेंटेशन सपोर्ट एजेंसी के माध्यम से ट्रस्ट मॉडल से दिया जाएगा.



योजना के प्रारंभ होने पर राज्य के राशन कार्डधारी परिवार सूचीबद्ध अस्पतालों में जाकर निशुल्क स्वास्थ्य सेवा प्राप्त कर सकेंगे. योजना के अंतर्गत राज्य के सभी सरकारी अस्पताल सूचीबद्ध किए जाएंगे. सूचीबद्धता प्राप्त करने हेतु अपने अस्पताल की पूर्ण विवरण ऑनलाइन भरने के लिए https://hospitals.abnhpm.gov.in वेबसाइट पर जा सकते हैं. योजना की जानकारी www.abnhpm.gov.in पर ली जा सकती है. इस योजना से सूबे के 59 लाख गरीब परिवारों का लाभ मिलेगा.
(उपेन्द्र कुमार की रिपोर्ट)

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज