रांची: खाने का ऑर्डर देकर डिलीवरी बॉय से करते थे लूटपाट, गिरोह के 4 सदस्य गिरफ्तार

पुलिस को गिरोह के एक अन्य सदस्य की भी तलाश है.

पुलिस को गिरोह के एक अन्य सदस्य की भी तलाश है.

Ranchi News: रांची के पुनदाग ओपी इलाके में हाल के दिनों में जोमैटो और स्विगी के डिलीवरी बॉय से लगातार लूट की वारदात सामने आ रही थी. पुलिस ने इस सिलसिले में एक टीम गठन कर छानबीन शुरू की, तो गिरोह का सारा खेल सामने आ गया.

  • Share this:

रांची. झारखंड की राजधानी रांची में डिलीवरी बॉय से लूटपाट (Loot) करने वाले गिरोह का पुलिस ने भंडाफोड़ किया. पुलिस ने इस मामले 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया. वही एक नाबालिग आरोपी को भी हिरासत में लिया गया है. एक अन्य आरोपी पुलिस की गिरफ्त से अभी दूर है. ये लोग जोमैटो और स्विगी के जरिये खाने का ऑर्डर देते थे. और जब डिलीवरी बॉय खाना लेकर इनके ठिकाने पर जाते थे तो उसे लूट लिया जाता था.

रांची के पुनदाग ओपी इलाके में हाल के दिनों में जोमैटो और स्विगी के डिलीवरी बॉय लगातार लूट की वारदात सामने आ रही थी. पुलिस ने इस सिलसिले में एक टीम गठन कर छानबीन शुरू की, तो गिरोह का खेल सामने आ गया. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए गिरोह के नाबालिग सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. वहीं एक सदस्य फिलहाल पुलिस गिरफ्त से दूर है.

मामले की जानकारी देते हुए पुनदाग ओपी प्रभारी अरविंद सिंह ने बताया कि यह गिरोह हाल के दिनों लगतार फ़ूड डिलीवरी बॉय से लूट की वारदात को अंजाम दे रहा था. गिरोह के लोग पहले खाने का आर्डर देते थे और सुनसान इलाके में बुलाकर डिलीवरी बॉय से हथियारनुमा वस्तु का इस्तेमाल कर लूटपाट किया करते थे.

पुलिस गिरफ्त में आए तीनों आरोपी की पहचान मनीष स्वांसी, नीलेश प्रवीण एक्का और एलिस उरांव के रूप हुई है. जबकि इनका साथी रवि पुलिस की गिरफ्त से दूर है. इन सभी आरोपियों की उम्र 19 से 20 वर्ष के आस-पास है.
गिरोह के शिकार बने डिलीवरी बॉय ऋषि वर्मा ने बताया कि बीते 30 मई की रात को पुंदाग ओपी इलाके में जब वह खाने देने पहुंचा तो उसके साथ लूटपाट की गई. घटना के बाद से वह इतना डर गया कि उसने रात में फूड डिलीवरी का काम नहीं करने का फैसला ले लिया.

रांची में नशे की लत को पूरा करने को लेकर युवा लगातार छोटे-मोटे अपराध को अंजाम दे रहे हैं, जो पुलिस को बड़ी चुनौती साबित हो रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज