रांची में मुठभेड़ के बाद पुलिस ने 5 पीएलएफआई उग्रवादियों को किया गिरफ्तार

पुलिस को देखते ही उग्रवादियों ने फायरिंग शुरू कर दी, जवाब में पुलिस को भी फायरिंग करनी पड़ी. (File Photo)

पुलिस को देखते ही उग्रवादियों ने फायरिंग शुरू कर दी, जवाब में पुलिस को भी फायरिंग करनी पड़ी. (File Photo)

Ranchi News: रांची एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने कहा कि हाल के दिनों में पीएलएफआई उग्रवादियों द्वारा राजधानी के व्यवसाई से लेवी की मांग की जा रही थी. 20 से 25 व्यवसाइयों को धमकी दी गई.

  • Share this:

रांची. राजधानी रांची के ग्रामीण इलाके में संगठन को विस्तार देने में लगे पीएलएफआई (PLFI) के 5 हार्डकोर उग्रवादियों को पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी से पहले पुलिस टीम पर उग्रवादियों ने फायरिंग की, पुलिस की ओर से भी जवाबी फायरिंग की गई. हालांकि इस मुठभेड़ में दोनों ओर से कोई हताहत नहीं हुई. बाद में पुलिस ने पांच उग्रवादियों को खरसीदाग ओपी इलाके से गिरफ्तार कर लिया.

दरअसल रांची के खरसीदाग ओपी इलाके में पीएलएफआई उग्रवादियों की एक गुप्त मीटिंग हो रही थी. इसकी सूचना मिलने के बाद एसएसपी रांची के निर्देश पर एक टीम का गठन किया गया. टीम ने छापेमारी की तो उग्रवादियों ने फायरिंग शुरू की दी.  जिसके बाद पुलिस टीम के द्वारा भी फायरिंग की गई. हालांकि आस-पास घर होने के कारण पुलिस ने ज्यादा फायरिंग नहीं की और उग्रवादी वहां से फरार हो गए. लेकिन पुलिस को एक उग्रवादी को दबोचने में कामयाबी मिली. मौके से एक स्कूटी और मोबाइल बरामद किये गये. गिरफ्तार उग्रवादी की निशानदेही पर बाद में 4 अन्य उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया.

रांची एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने कहा कि नगड़ी, नामकुम, बेड़ो, लापुंग, तुपुदाना, कांके और पिठोरिया जैसे ग्रामीण इलाकों में पीएलएफआई उग्रवादी अपनी पैठ को मजबूत करने को लेकर हिंसक वारदातों को अंजाम देने की फिराक में थे. ये उग्रवादी व्यवसाई को लेवी के लिए धमका रहे थे. इनके द्वारा 20 से 25 व्यवसाइयों को धमकी दी गई. गिरफ्तार उग्रवादियों में कुंवर गोप, रवि मिंज, मुन्ना उरांव, नरेश उरांव, अमृत कोस्पोट्टा शामिल हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज