अपने ही जाल में फंसा चोर, बुलेट चोरी के 5 महीने बाद ऑनरबुक लेने पहुंचा मालिक के घर, फिर...

पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर बुलेट बरामद कर लिया.

पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर बुलेट बरामद कर लिया.

Ranchi News: पुलिस के मुताबिक चोरी के 5 महीने आरोपी बुलेट का ऑनरबुक लेने मालिक के घर पहुंचा था. वह खुद को शोरूम का आदमी बताकर मालिक से ऑनरबुक मांग रहा था. लेकिन घरवालों को उस पर शक हुआ और उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया.

  • Share this:

रांची. झारखंड की राजधानी रांची में चोरी का अनोखा मामला सामने आया. चोर अपने ही जाल में फंस गया, वो भी चोरी के 5 महीने बाद. दरअसल चोर ने राजधानी के कोकर के सुंदर विहार इलाके से पांच महीने पहले एक बुलेट चुराया था. लेकिन बाइक का कागज नहीं होने के चलते वह उसे ना तो बेच पा रहा था और ना ही उस पर चढ़ पा रहा था. पांच महीने बाद उसने बुलेट का ऑनरबुक पाने की तरकीब लगाई और पहुंच गया बुलेट मालिक के घर. लेकिन उसकी चाल मालिक को समझ में आ गई. लिहाजा चोर को हवालात की हवा खानी पड़ी.

रांची के सदर थाने की पुलिस ने चोर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. पुलिस के मुताबिक चोरी के 5 महीने आरोपी ऑनरबुक लेने मालिक के घर पहुंचा था. वह खुद को शोरूम का आदमी बताकर मालिक से ऑनरबुक मांग रहा था. लेकिन घरवालों को उस पर शक हुआ. लिहाजा घरवालों ने उसे पकड़कर सदर थाने की पुलिस के हवाले कर दिया. बाद में पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने सबकुछ उगल दिया.

पुलिस के मुताबिक आरोपी धीरज कुमार कोडरमा का रहने वाला है. उसकी निशानदेही पर पुलिस ने चोरी का बुलेट कोडरमा स्थित उसके घर से बरामद कर लिया गया है. पिछले साल दिसंबर में उसने रांची के सुंदर बिहार इलाके से विक्की नामक युवक का बुलेट चुराया था. आरोपी रांची में पेंटर का काम करता था. चोरी के बाद वह बुलेट लेकर अपने घर कोडरमा चला गया. लेकिन पकड़े जाने के डर से वह बुलेट का उपयोग नहीं कर रहा था और कागज नहीं होने के चलते वह इसे बेच भी नहीं पा रहा था. इसलिए उसने तरकीब लगाकर कागजात हासिल करने की योजना बनाई. चाल उलटा पड़ा और वह पकड़ा गया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज