पेगासस प्रकरण पर झारखंड में सियासत गर्म, बीजेपी बोली फर्जी कहानी, कांग्रेस करेगी राजभवन मार्च

झारखंड में पेगासस प्रकरण को लेकर सियासत गर्म हो गई है.

Pegasus Phone Tapping: कांग्रेस ने पेगासस प्रकरण के खिलाफ 22 जुलाई को राजभवन मार्च की घोषणा की है. हेमंत सरकार में मंत्री और प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि फोन टेपिंग को लेकर कांग्रेस चुप बैठने वाली नहीं है.

  • Share this:
रांची. झारखंड में पेगासस प्रकरण (Pegasus Phone Tapping) को लेकर सियासत गरमा गई है. भाजपा विधायक दल के नेता व पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) ने कांग्रेस सहित यूपीए गठबंधन पर कड़ा प्रहार किया. मरांडी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी द्वारा राजनीतिक स्वार्थ सिद्धि के लिये तथ्यहीन, निराधार और बेबुनियाद आरोप लगाई जा रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस का यह पुराना चरित्र है, जिसमें लगातार गिरावट आती जा रही.

बाबूलाल ने कहा कि देश में एक वर्ग द्वारा झूठी कहानी गढ़ने का सिलसिला चल रहा. जिसमें तथाकथित बुद्धिजीवी वर्ग भी शामिल हैं. कोरोना संकट के बीच टीकाकरण पर भी देश को गुमराह करने में यह वर्ग पीछे नहीं रहा. ये सब मोदी जी की बढ़ती लोकप्रियता से घबराकर किया गया निरर्थक प्रयास है.

मरांडी ने कहा कि मानसून सत्र के ठीक पहले पेगासस की फर्जी कहानी सदन को बाधित करने और देश में बेबुनियाद एजेंडा खड़ा करने की कोशिश है. इसी चाल, चरित्र के कारण कांग्रेस पार्टी से देश का भरोसा उठ गया है.

उधर, कांग्रेस ने पेगासस प्रकरण के खिलाफ 22 जुलाई को राजभवन मार्च की घोषणा की है. हेमंत सरकार में मंत्री और प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि फोन टेपिंग को लेकर कांग्रेस चुप बैठने वाली नहीं है. सदन से लेकर सड़क तक इसके खिलाफ आवाज बुलंद की जाएगी. उन्होंने सुप्रीम कोर्ट की समिति से इस मामले की जांच कराने की मांग की.

क्या है पेगासस मामला?
समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक एक अंतरराष्ट्रीय मीडिया संगठन ने खुलासा किया है कि केवल सरकारी एजेंसियों को ही बेचे जाने वाले इजराइल के खुफिया जासूसी साफ्टवेयर पेगासस के जरिए भारत के दो केंद्रीय मंत्रियों, 40 से अधिक पत्रकारों, विपक्ष के तीन नेताओं और एक मौजूदा न्यायाधीश सहित बड़ी संख्या में कारोबारियों और अधिकार कार्यकर्ताओं के 300 से अधिक मोबाइल नंबर हो सकता है को हैक किए गए हों.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.