Ranchi News: निजी स्कूलों को 45 दिनों में सीबीएसई, सीआईएससीई की संबद्धता के लिए मिलेगी NOC

झारखंड में निजी स्कूलों को 45 दिन में मिल जाएगी सीबीएसई से संबंधता लेने के लिए एनओसी.

झारखंड में निजी स्कूलों को 45 दिन में मिल जाएगी सीबीएसई से संबंधता लेने के लिए एनओसी.

सरकार द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार, निजी स्कूलों को सीबीएसई या सीआइएससीई से संबद्धता प्राप्त करने के लिए एनओसी प्राप्त करने की पूरी प्रक्रिया 45 दिनों में पूरी की जाएगी. निजी स्कूलों द्वारा अनापत्ति प्रमाण पत्र हेतु आवेदन विभागीय वेबसाइट की ऑनलाइन सर्विस में ऑनलाइन भरे जाएंगे.

  • Last Updated: March 18, 2021, 12:22 AM IST
  • Share this:
रांची. झारखंड सरकार ने निर्णय लिया है कि राज्य सरकार द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार, निजी स्कूलों को सीबीएसई या सीआइएससीई से संबद्धता प्राप्त करने के लिए एनओसी प्राप्त करने की पूरी प्रक्रिया 45 दिनों में पूरी की जाएगी. निजी स्कूलों द्वारा अनापत्ति प्रमाण पत्र हेतु आवेदन विभागीय वेबसाइट की ऑनलाइन सर्विस में ऑनलाइन भरे जाएंगे.

हालांकि इसके बाद संबंधित जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा सीबीएसई या आइएससीई द्वारा मान्यता प्रदान करने के लिए निर्धारित अर्हता के आलोक में तथा विभागीय चेकलिस्ट के आधार पर जांच कर प्रतिवेदन अपनी अनुशंसा सहित माध्यमिक शिक्षा निदेशालय को ऑनलाइन प्रेषित किया जाएगा. जिला शिक्षा पदाधिकारी को इस कार्य को 20 दिनों के अंदर पूरा करना अनिवार्य होगा. जिला शिक्षा पदाधिकारी से जांच प्रतिवेदन प्राप्त होने के बाद माध्यमिक शिक्षा निदेशालय स्तर पर इसकी समीक्षा की जाएगी.

निदेशालय द्वारा जांच में स्कूल में कोई कमी या आवेदन में त्रुटि पाई जाती है, तो उक्त आवेदन को संबंधित जिला शिक्षा पदाधिकारी को संशोधित प्रस्ताव उपलब्ध कराने हेतु ऑनलाइन पोर्टल पर ही वापस किया जाएगा. इसके बाद जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा त्रुटि का निराकरण करते हुए आवेदन दोबारा निदेशालय को ऑनलाइन प्रेषित किया जाएगा. यह प्रक्रिया 15 दिनों में पूरी की जाएगी. यदि 15 दिनों के अंदर स्कूल द्वारा ऑनलाइन पोर्टल पर वांछित अभिलेख या संशोधन समर्पित नहीं किया जाएगा, तो जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा कारण स्पष्ट करते हुए आवेदन को माध्यमिक शिक्षा निदेशालय को अग्रसारित किया जाएगा.

विभागीय समिति लेगी अंतिम निर्णय
स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने माध्यमिक शिक्षा निदेशालय स्तर पर प्राप्त सभी ऑनलाइन आवेदनों की विधिवत जांच कर अनापत्ति प्रमाण पत्र देने के लिए एक समिति भी गठित की है. इस समिति में शिक्षा सचिव द्वारा मनोनीत संयुक्त सचिव स्तर के एक पदाधिकारी अध्यक्ष होंगे, जबकि माध्यमिक शिक्षा के उपनिदेशक या अवर सचिव तथा दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक के सदस्य होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज