• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • झारखंड सरकार के 1500 कर्मचारी को प्रदर्शनकारियों ने सचिवालय में बनाया बंधक!

झारखंड सरकार के 1500 कर्मचारी को प्रदर्शनकारियों ने सचिवालय में बनाया बंधक!

पारा चिकित्साकर्मियों ने प्रदर्शन के दौरान नेपाल हाउस के दोनों गेट पर ताला जड़ दिया.

पारा चिकित्साकर्मियों ने प्रदर्शन के दौरान नेपाल हाउस के दोनों गेट पर ताला जड़ दिया.

Ranchi News: सोमवार को राज्यभर से सैकड़ों की संख्या में पारा चिकित्साकर्मी अपनी मांगों को लेकर रांची स्थित नेपाल हाउस पहुंचे थे. प्रदर्शनकारियों ने नेपाल हाउस के दोनों गेट में ताला जड़ दिया. इससे 10 विभाग के 1500 कर्मचारी अंदर बंधक बन गये.

  • Share this:

    रांची. झारखंड की राजधानी रांची में अनुबंधित पारा चिकित्साकर्मी ने सोमवार को प्रदर्शन के दौरान सचिवालय (नेपाल हाउस) में ताला जड़ दिया. इस दौरान झारखंड सरकार के 10 विभाग के लगभग 1500 कर्मचारी सचिवालय में बंधक बन गए. बता दें कि नेपाल हाउस में स्वास्थ्य विभाग के अलावा, कृषि पशुपालन एवं सहकारिता, योजना, उद्योग, खान, उच्च शिक्षा, वन पर्यावरण, पेयजल स्वच्छता, जल संसाधन और श्रम विभाग के अलावा डेवलेपमेंट कमिश्नर के दफ्तर हैं. पारा चिकित्साकर्मियों के प्रदर्शन के चलते कई विभाग के सचिव स्तर के अधिकारी अंदर फंस गये. हालांकि इस दौरान किसी भी विभाग के मंत्री दफ्तर में नहीं थे.

    दरअसल पूर्व नियोजित प्रदर्शन कार्यक्रम के तहत राज्यभर से सैकड़ों की संख्या में पारा चिकित्साकर्मी अपनी मांगों को लेकर रांची स्थित नेपाल हाउस पहुंचे थे. स्वास्थ्य विभाग के सामने ये लोग प्रदर्शन कर रहे थे. धीरे-धीरे प्रदर्शन उग्र हो गये और नेपाल हाउस के दोनों गेटों में ताला जड़ दिया.

    पारा चिकित्साकर्मी सेवा समायोजित करने की मांग कर रहे थे. इनका आरोप है कि सीएम हेमंत सोरेन ने विधानसभा चुनाव के समय वादा किया था कि सभी अनुबंधकर्मियों को नियमित किया जाएगा. अब सरकार के दो साल बीत जाने के बाद वे अपने वादे से मुकर रहे हैं.

    प्रदर्शन को उग्र होता देख बाद में अतिरिक्त पुलिसबल को मौके पर बुलाया गया. पुलिस ने हल्की सख्ती दिखाते हुए प्रदर्शनकारियों को गेट के पास से दूर हटाया. फिर गेट पर लगे ताले को खोला गया.

    पारा चिकित्साकर्मियों की ये हैं मुख्य मांग

    1. स्वास्थ्य विभाग में अनुबंध पर कार्यरत सभी पारा मेडिकलकर्मियों को नियमित किया जाए.
    2. समान कार्य के लिए समान वेतन तथा 60 वर्षों तक सेवा गारंटी
    3. एनएचएम के अंर्तगत कार्यरत पारा चिकित्साकर्मियों की वेतन विसंगति को दूर कर एक समान मानदेय दिया जाए
    4. अनुबंधित पारा चिकित्साकर्मियों का झारखंड पारा मेडिकल काउंसिल से निबंधन करवाया जाए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज