झारखंड में 10 साल से संविदा पर काम कर रहे लोगों की नौकरी होगी पक्की

कैबिनेट ने दस साल से अस्थायी रूप से काम कर रहे लोगों को स्थायी सेवा में लाने का फैसला लिया है. इसके लिए कट ऑफ डेट इस फैसले के संबंध में जारी होने वाली अधिसूचना की तारीख को माना जाएगा.

News18 Jharkhand
Updated: June 18, 2019, 8:01 PM IST
झारखंड में 10 साल से संविदा पर काम कर रहे लोगों की नौकरी होगी पक्की
सीएम रघुवर दास (फाइल फोटो)
News18 Jharkhand
Updated: June 18, 2019, 8:01 PM IST
रघुवर सरकार ने संथाल परगना के लोगों को बड़ी सौगात दी है. संथाल परगना में अब वैसे लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिल सकेगा, जो दानपत्र या सहमति पत्र के माध्यम से गैर विवादित जमीन पर घर बनाकर रह रहे हैं. मंगलवार शाम को हुई कैबिनेट की बैठक में ऐसे गरीबों को पीएम आवास योजना का लाभ देने का फैसला लिया गया.

अस्थायी कर्मियों की नौकरी होगी पक्की

कैबिनेट ने दस साल से अस्थायी रूप से काम कर रहे लोगों को स्थायी सेवा में लाने का भी फैसला लिया है. इसके लिए कट ऑफ डेट राज्य सरकार के द्वारा इस फैसले के संबंध में जारी होने वाली अधिसूचना की तारीख को माना जाएगा. इसके अलावा वक्फ बोर्ड न्यायाधिकरण में तीन सदस्यों की नियुक्ति करने का भी फैसला लिया गया.

राज्यस्तरीय नौकरियों में सवर्ण आरक्षण का लाभ 

कैबिनेट ने राज्यस्तरीय नौकरियों में सवर्ण आरक्षण देने पर सहमति दी है. कैबिनेट की बैठक की जानकारी देते हुए कार्मिक सचिव अजय कुमार ने कहा कि राज्यस्तर की सभी नौकरियों में अब सवर्ण आरक्षण का लाभ दिया जाएगा. इस फैसले के बाद सूबे में अब आरक्षण का कोटा बढ़कर 60 प्रतिशत हो गया है. लेकिन जिलास्तरीय नौकरियों में यह आरक्षण जातिगत आंकड़े आने के बाद लागू किया जाएगा.

इनपुट- अजयलाल

ये भी पढ़ें- ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को लेकर सीएम का निर्देश- सिर्फ आंकड़ों की बाजीगरी नहीं, जमीन पर काम करें अधिकारी
झारखंड में अब वेटेज फॉर्मूले के तहत होगा शिक्षकों का तबादला, नई नीति के बारे में पढ़ें यहां

 

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...