रघुवर दास बोले- जयचंदों के कारण हुई पार्टी की हार, सरयू का जवाब- आपका अहंकार ले डूबा

विधानसभा चुनाव में बीजेपी की हार के बाद रघुवर दास और सरयू राय में बयानबाजी का दौरा जारी है (फाइल फोटो)
विधानसभा चुनाव में बीजेपी की हार के बाद रघुवर दास और सरयू राय में बयानबाजी का दौरा जारी है (फाइल फोटो)

रघुवर दास के बयान पर उनके खिलाफ चुनाव जीतने वाले सरयू राय ने कहा कि बीजेपी की हार होने की मूल वजह रघुवर दास और उनका अहंकार है. जमशेदपुर में परिवारवाद की वजह से कार्यकर्ता और जनता उनसे नाराज हुए. उन्होंने कहा कि जब शीर्ष पर बैठे लोग भीष्म पितामह और धृतराष्ट्र बन जाएंगे, तो ऐसे परिणाम स्वाभाविक है

  • Share this:
रांची. झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election 2019) में मिली हार (Election Defeat) के बाद बीजेपी (BJP) इसकी समीक्षा में जुट गई है. संगठन की ओर से इस बाबत (संबंध) जिला इकाइयों से रिपोर्ट तलब की गई है. लेकिन इस बीच राज्य के कार्यवाहक मुख्यमंत्री रघुवर दास (Raghuvar Das) के एक बयान ने पार्टी की अंदरूनी सियासत को गर्म कर दिया है. उन्होंने हार के पीछे भीतरघात को कारण बताया है. इस पर उनके खिलाफ निर्दलीय चुनाव जीतने वाले और बीजेपी (BJP) के पूर्व नेता सरयू राय (Saryu Rai) ने जवाब दिया कि पार्टी की हार रघुवर दास के अहंकार की वजह से हुई.

जयचंदों के कारण हुई हार- रघुवर दास

रघुवर दास ने विधानसभा चुनाव में बीजेपी की हार का ठीकरा अंतर्कलह पर फोड़ते हुए कहा कि पार्टी के अंदर जयचंद जैसे लोगों की वजह से उनकी और पार्टी की हार हुई है. हालांकि रघुवर दास ने किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन इशारों-इशारों में पार्टी के कुछ नेताओं पर उंगली जरूर उठाई. विपक्ष पर भी हमला बोलते हुए रघुवर दास ने कहा कि विपक्ष ने उन्हें अहंकारी और गुस्सैल बताकर जनता को गुमराह किया.



रघुवर दास के इस बयान पर आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने कटाक्ष करते हुए कहा कि बीजेपी की ये हार उसकी जन-विरोधी नीतियों के कारण हुई. उन्होंने नसीहत देते हुए कहा कि समीक्षा से पहले ही किसी पर हार का ठीकरा फोड़ना सही नहीं.
सरयू का पलटवार, कहा- हार का कारण रघुवर का अहंकार

रघुवर दास के बयान को लेकर उनके खिलाफ चुनाव जीतने वाले सरयू राय का कहना है कि बीजेपी की हार होने की मूल वजह रघुवर दास और उनका अहंकार है. जमशेदपुर में परिवारवाद की वजह से कार्यकर्ता और जनता उनसे नाराज हुए. उन्होंने कहा कि जब शीर्ष पर बैठे लोग भीष्म पितामह और धृतराष्ट्र बन जाएंगे, तो ऐसे परिणाम स्वाभाविक है.

हालांकि रघुवर दास के बयान के इतर बीजेपी के प्रदेश महामंत्री दीपक प्रकाश का कहना है कि हार की समीक्षा को लेकर सभी जिलों से रिपोर्ट तलब की गई है. जिसके बाद हार की समीक्षा कर कारणों का पता लगाया जाएगा. उन्होंने चुनाव में भीतरघात की बात से इनकार किया.

बता दें कि 65 प्लस के लक्ष्य के साथ चुनाव मैदान में उतरी बीजेपी महज 25 सीटों पर सिमटकर रह गई. नतीजों में जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी के गठबंधन को स्पष्ट बहुमत मिला है. जेएमएम नेता हेमंत सोरेन के नेतृत्व में रांची में 29 दिसंबर को नई सरकार का शपथ ग्रहण होगा. हेमंत सोरेन दूसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे.'

(रिपोर्ट- ओमप्रकाश)

ये भी पढ़ें- प्रचार के दौरान हेमंत सोरेन की जाति पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर घिरे रघुवर दास, FIR दर्ज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज