• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • रघुवर दास बोले- हेमंत सोरेन अक्षम और अनुभवहीन, छोटे भाई बसंत को बनाना चाहिए मुख्यमंत्री

रघुवर दास बोले- हेमंत सोरेन अक्षम और अनुभवहीन, छोटे भाई बसंत को बनाना चाहिए मुख्यमंत्री

पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के इस बयान के बाद सूबे की सियासत गर्म हो गई है. (फाइल फोटो)

पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के इस बयान के बाद सूबे की सियासत गर्म हो गई है. (फाइल फोटो)

Jharkhand Politics: पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने हेमंत सोरेन को अनुभवहीन और फ्लॉप सीएम करार दिया है. उन्होंने कहा कि 19 महीने की हेमंत सरकार में राज्य में आदिवासियों पर सबसे ज्यादा अत्याचार हुए हैं.

  • Share this:

रांची. पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास (Raghuvar Das) ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने हेमंत सोरेन (Hemant Soren) को अनुभवहीन और फ्लॉप मुख्यमंत्री करार देते हुए उनके छोटे भाई बसंत सोरेन को सीएम बनाने की मांग की है. रघुवर दास ने कहा कि 19 महीने की हेमंत सरकार में राज्य में आदिवासियों पर सबसे ज्यादा अत्याचार हुए हैं. इसलिए जेएमएम को अक्षम और अनुभवहीन सीएम को पद से हटाना चाहिए. सोरेन परिवार से ही सीएम बनाना है तो बसंत सोरेन के सीएम बनाना चाहिए.

रघुवर दास ने कहा कि जेएमएम में कई ऐसे विधायक हैं जिनका लंबा राजनीतिक अनुभव है. नलिन सोरेन, स्टीफन मरांडी, लोबिन सोरेन जैसे सीनियर नेता को सीएम बनाना चाहिए. लेकिन अगर सोरेन परिवार से ही किसी को मुख्यमंत्री बनाना है, तो युवा तुर्क नेता बसंत सोरेन को जेएमएम मुख्यमंत्री बनाए.

बीजेपी नेता ने निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में आदिवासी मुख्यमंत्री के होते हुए सबसे ज्यादा आदिवासियों पर अत्याचार हुआ है. पिछले 19 महीने के कार्यकाल में हेमंत सरकार में सबसे ज्यादा आदिवासियों की हत्या और बलात्कार जैसी घटनाएं हुई हैं. सूबे में कानून व्यवस्था की हालत लचर है. आए दिन हत्या, लूट, बलात्कार की घटना होती रहती हैं. इसलिए ऐसे अक्षम और अनुभवहीन मुख्यमंत्री को तत्काल बाहर का रास्ता दिखाना चाहिए.

रघुवर दास ने कहा कि हेमंत सरकार को ब्यूरोक्रेट्स चला रहे हैं, जबकि मुख्यमंत्री मूकदर्शक बने हुए हैं. ऐसी स्थिति में जिस सोच के साथ स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी ने झारखंड का निर्माण किया था और जेएमएम ने भी राज्य के निर्माण के लिए आंदोलन किया था. जेएमएम के नेताओं को अब आगे आकर अक्षम सीएम को पद से हटाना चाहिए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज