रघुवर सरकार का कर्मचारियों को तोहफा, आवास, चिकित्सा और परिवहन भत्ता देने का फैसला

केंद्र के फार्मूले के मुताबिक एचआरए 8, 16 व 24 प्रतिशत दिया जायेगा

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 14, 2018, 10:30 AM IST
रघुवर सरकार का कर्मचारियों को तोहफा, आवास, चिकित्सा और परिवहन भत्ता देने का फैसला
फाइल फोटो.
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 14, 2018, 10:30 AM IST
रघुवर सरकार ने अपने कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है. कैबिनेट की बैठक में सातवें वेतन आयोग की अनुशंसा के आलोक में आवास किराया भत्ता (एचआरए) देने का फैसला लिया गया है. कर्मचारियों को चिकित्सा और परिवहन भत्ता भी मिलेगा. जबकि पहले से लागू परिवार नियोजन भत्ता समाप्त कर दिया गया है. कर्मचारियों को अब नियमित चिकित्सा भत्ता 300 रुपये प्रति माह के बदले एक हजार रुपया मिलेगा.


केंद्र के फार्मूले के मुताबिक एचआरए 8, 16 व 24 प्रतिशत दिया जायेगा. एक्स श्रेणी के शहरों में कर्मचारी को उसके मूल वेतन का 24 प्रतिशत एचआरए मिलेगा. वाई श्रेणी के शहरों में 16 फीसदी और जेड श्रेणी के शहरों में मूल वेतन के आठ प्रतिशत की दर से एचआरए मिलेगा.



सरकार ने 50 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों को एक्स श्रेणी, पांच से 50 लाख तक की आबादी वाले शहर को वाई श्रेणी और पांच लाख से कम आबादी वाले शहर को जेड श्रेणी में रखा है. एचआरए एक्स श्रेणी के शहर में 5400 रुपये, वाई श्रेणी में 3600 रुपये और जेड श्रेणी में 1800 रुपये प्रतिमाह से कम नहीं होगा.

 

प्रतिमाह परिवहन भत्ता की अनुमानित राशि


पे लेबल              X श्रेणी                Y श्रेणी

एक-दो               ‍Rs 1350              Rs 900

तीन से आठ         Rs 3600             Rs 1800

नौ प्लस               Rs 7200              Rs 3600


पे लेबल 11-13 :    सचिव की अनुमति पर विशेष परिस्थिति में इकोनॉमी श्रेणी से हवाई यात्रा

पे लेबल 13ए-16 :  इकोनॉमी श्रेणी में हवाई यात्रा कर सकेंगे

पे लेबल 17 :         एग्जीक्यूटिव क्लास में हवाई सफर कर सकेंगे.



पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर