झारखंड: मॉनसून की पहली बारिश भी नहीं झेल पाया 130 करोड़ का मेगा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स
Ranchi News in Hindi

झारखंड: मॉनसून की पहली बारिश भी नहीं झेल पाया 130 करोड़ का मेगा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स
मॉनसून की पहली बारिश से बदहाल हुआ रांची का मेगा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स

रांची में मेगा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स (Mega Sports Complex) का निर्माण 2006 में शुरू होकर 2009 में पूरा कर लिया गया था. जिसके बाद 2011 में इसी स्टेडियम में 34वें नेशनल गेम्स (National Games) का आयोजन किया गया था.

  • Share this:
रांची. झारखंड की नाक और खेल की शान रहे रांची (Ranchi) का मेगा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स (Mega Sports Complex) आज अपनी बदहाली पर रो रहा है. करीब 130 करोड़ से ज्यादा की लागत से बने इस स्टेडियम की प्रतिष्ठा को मॉनसून (Monsoon) की पहली बारिश ने ही धोकर रख दिया है. स्टेडियम के चारों तरफ बने ड्रेनेज से सटी फेंसिंग की दीवार कई जगहों पर टूट कर गिर गई हैं. दरअसल स्टेडियम के चारों तरफ करीब 4 फीट का ड्रेनेज सिस्टम है, जिस पर बारिश के पानी का दबाव इतना ज्यादा बढ़ गया कि ड्रेनेज से सटी पूरी दीवार ही गिर गई. ऐसे में अब सिंथेटिक ट्रैक पर भी खतरा मंडराने लगा है. बुधवार को सूचना मिलने के बाद खेल निदेशक और सीसीएल के अधिकारी खुद स्टेडियम का आनन-फानन में निरीक्षण करने पहुंचे.

2011 में 34वें नेशनल गेम्स का हुआ था आयोजन

मेगा स्पोर्ट्स कंपलेक्स का निर्माण 2006 में शुरू होकर 2009 में पूरा कर लिया गया था. जिसके बाद 2011 में इसी स्टेडियम में 34वें नेशनल गेम्स का आयोजन किया गया था. लेकिन उसके बाद बदहाली मेगा स्पोर्ट्स कांप्लेक्स की नियति बन गई. स्टेडियम के निरीक्षण के दौरान खेल निदेशक कई बार ड्रेनेज सिस्टम में बरती गई लापरवाही पर फटकार लगाते दिखाई दिखे. तो वहीं उनके साथ मौजूद सीसीएल अधिकारी उन्हें अपने जवाब से संतुष्ट करते नजर आए. लेकिन लापरवाही खुद अपना पोल खोल रही थी.



दरअसल 2015 में झारखंड राज्य स्पोर्ट्स प्रमोशन सोसाइटी के निर्माण के बाद मेगा स्पोर्ट्स कंपलेक्स के मेंटेनेंस की जिम्मेदारी सीसीएल की ही है. ऐसे में निरीक्षण के बाद जो भी कमियां सामने आई हैं. उनकी तत्काल मरम्मत का निर्देश दिया गया है. बारिश, बर्बादी और स्टेडियम की बदहाली के बीच अब सबसे बड़ा सवाल यही है कि करोड़ों की लागत से बने इस स्टेडियम की बदनसीबी का जिम्मेदार कौन है.
रिपोर्ट- संजय सिन्हा

ये भी पढ़ें- भारत-चीन झड़प: छोटे भाई की शहादत पर बोले बड़े भाई- कुर्बानी पर गम नहीं फख्र है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज