झारखंड: तबलीगी जमात से जुड़े 16 विदेशी नागरिकों की जमानत याचिका खारिज, भेजे गए जेल
Ranchi News in Hindi

झारखंड: तबलीगी जमात से जुड़े 16 विदेशी नागरिकों की जमानत याचिका खारिज, भेजे गए जेल
रांची सिविल कोर्ट ने तबलीगी जमात से जुड़े 16 विदेशियों की जमानत याचिका खारिज कर दी. (फाइल फोटो)

विदेशी स्‍कॉलरों (Foreign Nationals) को 30 मार्च को रांची के हिंदपीढ़ी (Hindpidhi) इलाके से गिरफ्तार किया गया था. टूरिस्ट वीजा उल्लंघन (Tourist Visa Violation) मामले में हिंदपीढ़ी थाने में मामला दर्ज किया गया था.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
रांची. सिविल कोर्ट ने टूरिस्ट वीजा उल्लंघन मामले में 16 विदेशी नागरिकों (Foreign Nationals) की जमानत याचिका (Bail Petition) खारिज कर दी. फिलहाल इन सभी को रांची के होटवार कैंप जेल में रखने का आदेश कोर्ट ने दिया है. सीजेएम फईम किरवानी की अदालत ने हिंदपीढ़ी (Hindpidhi) के आरोपी हाजी मेराजुद्दीन को जमानत दे दी है. टूरिस्‍ट वीजा पर भारत आये इन विदेशी स्‍कॉलरों को 30 मार्च को राजधानी रांची के हिंदपीढ़ी इलाके की बड़ी मस्जिद और मदीना मस्जिद से गिरफ्तार किया गया था. जिसके बाद टूरिस्ट वीजा के नाम पर भारत आकर धर्म प्रचार करने के मामले में हिंदपीढ़ी थाने में 18 लोगों पर मामला दर्ज किया गया था. इन 18 लोगों में 17 विदेशी नागरिक शामिल थे. जबकि एक अन्य सदस्य रांची के हिंदपीढ़ी का ही रहने वाला है.

टूरिस्ट वीजा पर आकर धर्म प्रचार करने का आरोप 
मंगलवार को कोर्ट में सुनवाई के दौरान जिन 16 विदेशी नागरिकों की जमानत याचिका खारिज की गई. उनमें ब्रिटेन का जाहिद कबीर, शियहान हुसैन खान, महासीन अहमद काजी और दिलावर हुसैन, वेस्टइंडीज का फारुख अल्बर्ट खान, हालैंड का मोहम्मद सैफुल इस्लाम, त्रिनिदाद का नदीम खान, जांबिया का मूसा जा लाब और फरिमंग सेसे, मलेशिया का सिती आयशा बिनती, नूर रशीदा बिनती, नूर हयाती बिनती, नूर कमरुजामा, महाबीर बीन खामीस, मो.शफीक एवं मो. अजीम शामिल हैं. ये सभी 17 विदेशी नागरिक टूरिस्ट वीजा पर भारत आये थे, लेकिन यहां रुक कर धर्मप्रचार का काम करने लगे. इन पर विदेश से भारत आकर धर्म प्रचार करते हुए सरकारी आदेश का उल्लंघन करने के मामले में हिंदपीढ़ी थाने में मामला दर्ज किया गया था.

30 मार्च को पकड़ गये थे सभी



बता दें कि बीते 30 मार्च को रांची के हिंदपीढ़ी इलाके की बड़ी और मदीना मस्जिद से 17 विदेशी नागरिक सहित 24 लोग पकड़ गये थे. जिसके बाद सभी लोगों को रांची पुलिस ने खेलगांव स्थित क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया था. 31 मार्च को इन विदेशियों में से एक मलेशियाई महिला की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गयी थी. जिसके बाद इसी मलेशियाई महिला के रूप में झारखंड में कोरोना का पहला मरीज सामने आया था. उसका रिम्स में इलाज कराया गया था. हालांकि अब यह मलेशियाई महिला कोरोनामुक्त होकर स्वस्थ हो चुकी है. ये सभी विदेशी जमात पर आये थे और हिंदपीढ़ी की दो मस्जिद में रह रहे थे.



 

इनपुट- भुवन किशोर झा

ये भी पढ़ें- देवघर के साइबर अपराधियों ने देशभर के 74 बैंकखातों से 1 करोड़ उड़ाये
First published: May 13, 2020, 5:52 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading