Home /News /jharkhand /

रांची रेप की पूरी कहानी: सफेद कार से आए बदमाशों ने 3 लड़कियों में 1 को उठाया, फिर कंबल से ढंककर...

रांची रेप की पूरी कहानी: सफेद कार से आए बदमाशों ने 3 लड़कियों में 1 को उठाया, फिर कंबल से ढंककर...

रांची में नाबालिग से रेप की पूरी कहानी सामने आई. मामले में 3 गिरफ्तार.  (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रांची में नाबालिग से रेप की पूरी कहानी सामने आई. मामले में 3 गिरफ्तार. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Ranchi Minor Girl Rape: घटना रविवार की सुबह करीब साढ़े पांच बजे चान्हो थाना क्षेत्र के पाटुक गांव के बड़का पुल के पास घटी. घटना के करीब चार घंटे बाद सुबह 9.30 बजे पीड़िता किसी तरह अपराधियों के चंगुल से बच निकली और पैदल पांच किमी की दूरी तय कर अपने गांव पहुंची. बदहवास पीड़िता ने किसी तरह परिजनों को आपबीती बताई.

अधिक पढ़ें ...

सुनील कुमार
रांची. 15 वर्षीया नाबालिग को अगवा कर रेप करने वाले तीनों अपराधियों  को चान्हों पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में पीड़िता ने जो आपबीती बताई है वह न सिर्फ पुलिस की बेपरवाही को बयां करती है बल्कि हेमंत सोरेन सरकार की महिलाओं को सुरक्षा दे पाने में नाकामी भी जगजाहिर कर देती है. पीड़िता ने बताया है कि कैसे उसे अगवा करने के बाद अपराधी पेट्रोल पम्प गए और नेशनल हाइवे पर काफी देर तक चलते रहे, लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी. बता दें कि सेना व पुलिस बहाली के लिए दौड़ का अभ्यास करने दो सहेलियों के साथ निकली 15 वर्षीया नाबालिग को कार सवार तीन अपराधियों ने अगवा कर लिया.इसके बाद चलती कार में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया.

यह घटना रविवार की सुबह करीब साढ़े पांच बजे चान्हो थाना क्षेत्र के पाटुक गांव के बड़का पुल के पास घटी. घटना के करीब चार घंटे बाद सुबह 9.30 बजे पीड़िता किसी तरह अपराधियों के चंगुल से बच निकली और पैदल पांच किमी की दूरी तय कर अपने गांव पहुंची. बदहवास पीड़िता ने किसी तरह परिजनों को आपबीती बताई.

अपनी दो अन्य सहेलियों के साथ दौड़ का अभ्यास करने के लिए निकली थी. गांव से दौड़ते हुए दो किमी दूर जब तीनों पाटुक गांव के बड़ा पुल के पास पहुंचीं, तो अचानक सफेद रंग की कार सामने से आकर रुकी. इसके बाद कार से उतरे तीन युवकों ने तीनों लड़कियों को पकड़ने का प्रयास किया. दो लड़कियां बच निकलीं, जबकि नाबालिग पकड़ी गयी. इसके बाद उसे चाकू दिखा जबरन कार में बिठाया और साथ लेकर रांची की ओर चले गये.

पीड़िता के अनुसार, रांची की ओर ले जाने के क्रम में चान्हो थाना क्षेत्र की सीमा पर स्थित टेढ़ी पुल के निकट पेशाब करने के लिए अपराधी रुके थे. इसके बाद मांडर के आगे किसी पेट्रोल पंप पर अपराधियों ने कार में पेट्रोल लिया. वहां से जब कार निकली, तब अपराधियों ने उसे कंबल से ढक दिया. इसके बाद उसे कहीं सुनसान स्थान पर ले गये और कार में ही तीनों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया.

पीड़िता के अनुसार, कार से बाहर उसे एक बार देखने का मौका मिला, तो सड़क पर उसे एक बोर्ड पर रामगढ़ लिखा दिखा. पुलिस को आशंका है कि अपराधी लड़की को अगवा कर ब्रांबे या फिर पिठोरिया रिंग रोड की ओर ले गए होंगे. खौफजदा पीड़िता का बयान लेने में चान्हों पुलिस को छह घंटे से ज्यादा का वक्त लगा. शाम में पीड़िता के बयान पर चान्हो थाना में तीन अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी . प्राथमिकी के बाद पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए पुलिस रांची के सदर अस्पताल भेजी.

तीनों आरोपी गिरफ्तार
बता दें कि देर रात तीनों आरोपियों को तकनीकी सेल की मदद से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. तीनों से पूछताछ की जा रही है. ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने बताया कि खलारी डीएसपी अनिमेष नैथानी के नेतृत्व में एसआइटी का गठन किया गया था. इसमें चान्हो और मांडर के थाना प्रभारियों और तकनीकी सेल को शामिल किया गया था. पुलिस की टीम अलग-अलग स्थानों पर जांच कर रही थी. इस क्रम में पुलिस ने पेट्रोल पंप और एनएच पर लगे सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला.

पीड़िता कस्तूरबा आवासीय विद्यालय की छात्रा है. दुष्कर्म के बाद कार सवार एक युवक ने साथियों से कहा कि रास्ते में जब वह पेशाब करने टेढ़ी पुल के निकट रुका था, तो उसका मोबाइल शायद वहीं गिर गया है. उसके बाद कार सवार अपराधी पुनः लौट कर टेढ़ी पुल के पास पहुंचे और कार से उतरकर मोबाइल फोन की तलाश करने लगे. इसी बीच मौका देखकर पीड़िता कार से उतरकर सड़क से नीचे खेत की ओर भागी और पांच किमी पैदल चलकर अपने गांव पहुंची.

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर