Home /News /jharkhand /

रांची: अपोलो हॉस्पिटल के लिए दी गयी थी जमीन, लोगों ने बना लिया घर, अब खुली नगर निगम की नींद

रांची: अपोलो हॉस्पिटल के लिए दी गयी थी जमीन, लोगों ने बना लिया घर, अब खुली नगर निगम की नींद

एक बार फिर से रांची नगर निगम की बड़ी लापरवाही सामने आयी है.

एक बार फिर से रांची नगर निगम की बड़ी लापरवाही सामने आयी है.

Jharkhand: रांची में एक बार फिर नगर निगम (Ranchi Municipal Corporation) की बड़ी लापरवाही सामने आई है. दरअसल रांची नगर निगम की ओर से जिस जमीन को हॉस्पिटल खोलने के लिए अपोलो ग्रुप (Apollo Group) को दिया गया था, उस पर लोगों ने अतिक्रमण कर अपना घर और गराज बना लिया.

अधिक पढ़ें ...

    रांची. झारखंड की राजधानी रांची में एक बार फिर नगर निगम (Ranchi Municipal Corporation) की बड़ी लापरवाही सामने आई है. दरअसल रांची नगर निगम की ओर से जिस जमीन को हॉस्पिटल खोलने के लिए अपोलो ग्रुप (Apollo Group) को दिया गया था, उस पर लोगों ने अतिक्रमण कर अपना घर और गराज बना लिया. बताया जाता है कि नगर निगम ने रांची के बड़ा घाघरा इलाके में हॉस्पिटल (Apollo Hospital) खोलने के लिए चेन्नई के अपोलो ग्रुप को सात वर्ष पहले जो जमीन दी थी. लेकिन, इस जमीन पर अब अतिक्रमणकारियों का कब्जा हो गया है. मिली जानकारी के अनुसार नगर निगम ने हॉस्पिटल के लिए कुल 2.80 एकड़ जमीन अपोलो ग्रुप को दी थी. अब इसी जमीन के 20 डिसमिल क्षेत्र पर तीन लोगों ने अवैध रूप से कब्जा कर घर का निर्माण कर लिया है. अब ऐसे में नगर निगम की इस लापरवाही पर सवाल उठने लगे हैं कि आखिर अब तक निगम को इसकी खबर तक क्यों नहीं हुई?

    बताया जाता है कि रांची नगर निगम ने अपोलो प्रबंधन के साथ जमीन का एग्रीमेंट तो कर लिया लेकिन, निगम की ओर से उस जमीन पर अपोलो ग्रुप को कब्जा नहीं दिया गया. इस बीच निगम के किसी अधिकारी ने जमीन का निरीक्षण तक नहीं किया और इसी दौरान जमीन पर लोगों ने घर बना लिया.

    निगम ने अब दिया अल्टिमेटम

    जमीन पर अवैध कब्जा होने के बाद रांची नगर निगम की नींद खुली तो निगम की ओर से अवैध रूप कब्जा करने वाले तीनों अतिक्रमणकारियों को 72 घंटे के अंदर जमीन खाली करने का आदेश दिया गया है. निगम का कहना है कि 26 दिसंबर तक कब्जा नहीं हटा, तो निगम बलपूर्वक वहां बनी संरचना को तोड़ देगा. इसके साथ ही इसमें खर्च होने वाली राशि भी अतिक्रमणकारियों से ही वसूली जाएगी.

    20 डिसमिल जमीन किया कब्जा
    बताया जाता है कि बड़ा घाघरा इलाके के करीब 20 डिसमिल जमीन पर अतिक्रमण कर किसी ने घर तो किसी ने गैराज बना लिया है. वहीं जानकारी के अनुसार इस इलाके के खाता नं-328 के प्लांट नं-57 व 58 की 2.80 एकड़ जमीन नगर निगम के नाम है, लेकिन वहां 7.14 डिसमिल जमीन पर बिरसा उरांव ने बाउंड्री खड़ी कर ली है. वहीं 7.78 डिसमिल जमीन पर सुषमा एक्का ने घर बना लिया है और वहीं एक और व्यक्ति सुरेश तिर्की ने भी बाउंड्री खड़ी कर ली है.

    पहले भी इस जमीन पर हो चुका है विवाद
    बताया जाता है कि इस जमीन पर पहले भी विवाद हो चुका है. कुछ महीने पहले भी मोबारक करीम नाम के एक व्यक्ति ने जमीन को रैयती बताते हुए निगम को जमीन का एनओसी देने के लिए पत्र दिया था. करीम ने प्लांट नं-57 से 70 डिसमिल व प्लाट 58 से 70 डिसमिल जमीन पर अपनी दावेदारी पेश की थी. इस संबंध में उसने नगर निगम को 1.40 एकड़ जमीन की रजिस्ट्री व म्यूटेशन के पेपर भी दिया था. अब ऐसे में इस तरह से हॉस्पिटल के लिए दी गयी जमीन पर विवाद खड़ा होने से हॉस्पिटल का निर्माण कार्य भी प्रभावित हो सकता है.

    Tags: Apollo Hospital, Ranchi Municipal Corporation, Ranchi news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर