Assembly Banner 2021

Ranchi News: 100 पुड़िया ब्राउन शुगर के साथ 3 तस्कर गिरफ्तार, UP से झारखंड आता था माल

लोअर बाज़ार थाना क्षेत्र और चुटीया इलाके में हाल के दिनों में भी ड्रग्स के सप्लायर की गिरफ्तारी हो चुकी है. (सांकेतिक फोटो)

लोअर बाज़ार थाना क्षेत्र और चुटीया इलाके में हाल के दिनों में भी ड्रग्स के सप्लायर की गिरफ्तारी हो चुकी है. (सांकेतिक फोटो)

पुलिस को अरगोड़ा मैदान (Argora Maidan) में ब्राउन शूगर की खरीद-बिक्री होने की सूचना मिली थी. इसके बाद गठित पुलिस की टीम ने रेड किया.

  • Share this:
रांची. झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची में ड्रग्स का कारोबार इन दिनों धड़ल्ले से चल रहा है. वहीं, लगातार ड्रग्स के गिरोह का भंडाफोड़ भी हो रहा है. बावजूद सफेद पाउडर का काला खेल बेखौफ तरीके से चल रहा है. इसी की बानगी रविवार को अरगोड़ा थाना (Argora police station) क्षेत्र में सामने आया, जब पुलिस ने ब्राउन शूगर (Brown sugar) की खरीद-बिक्री वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए 3 आरोपियों को धर दबोचा. पुलिस की टीम ने अरगोड़ा मैदान से सप्लायर और खरीदार को गिरफ्तार किया है. आरोपियों में से एक सप्लायर फैजान शोएब है, जो यूपी के इलाहाबाद का रहने वाला है. आरोपियों के पास से 100 से ज्यादा ब्राउन शुगर की पुड़िया बरामद की गई हैं. वहीं, पकड़े गए अन्य अपराधियों में अरगोड़ा बस्ती का विनय कुमार साहु उर्फ सोनू कुमार साहु व विकास कुमार सिंह शामिल हैं.

जानकारी के अनुसार, पुलिस को अरगोड़ा मैदान में ब्राउन शूगर की खरीद-बिक्री होने की सूचना मिली थी. जिसके बाद टीम बनाकर गठित पुलिस की टीम ने रेड किया. पुलिस के अरगोड़ा मैदान में आता देख आरोपी भागने लगे. आरोपियों को भागता देख पुलिस की टीम ने तीनों अपराधियों के खदेड़कर दबोच लिया. तलाशी के दौरान तीनों के पास भारी मात्रा में ब्राउन शूगर बरामद किया गया. पूछताछ में तीनों ने पुलिस के समक्ष यह बयान दिया कि वे ब्राउन शूगर खरीद कर उसकी बिक्री करते हैं. पुलिस तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है. पुलिसिया पूछताछ में इस गिरोह से जुड़े अन्य शख्सों के नाम का खुलासा होने की उम्मिद है.

यूपी से आता है ड्रग्स
गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वह यूपी से ब्राउन शूगर खरीदते हैं. इसके बाद उसे रांची के वैसे चौक-चौराहों पर बेचते हैं, जहां भीड़-भाड़ होती है. आरोपियों ने बताया कि ब्राउन शूगर खरीदने वाले कुछ कस्टमर फिक्स हैं. बाकी वे उन्हीं को माल देते हैं, जो उन ग्राहकों के संपर्क से आता है. करीब एक साल से वे लगातार इसकी बिक्री कर रहे हैं. आरोपियों ने यह भी बताया कि उनके लिए सबसे मुफीद जगह कॉलेज होते है जहां आसानी से उन्हें कस्टमर मिल जाते हैं.
नशे की जड़ में आ रहे युवा


लोअर बाज़ार थाना क्षेत्र और चुटीया इलाके में हाल के दिनों में भी ड्रग्स के सप्लायर की गिरफ्तारी हो चुकी है. अबतक जो जानकारी सामने आई है इन सभी गिरोहों के टारगेट में युवा वर्ग हैं, जो धीरे धीरे इनके बिछाए जाल में फंस जाते हैं. और अपने नशे की लत को पूरा करने के लिए नशे की जड़ में आए युवा अपराध की घटनाओं को अंजाम देने से नहीं हिचकते.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज