Ranchi News: एक्शन में उपायुक्त, 30 कर्मियों को शो कॉज नोटिस किया जारी, 24 घंटे में नहीं दिया जवाब तो होगी कार्रवाई

प्रदेश में बढ़ते हुए कोविड संक्रमण के साथ ही अस्पतालों में ऑक्सीजन और वेन्टीलेटर बेड की कमी देखने को मिल रही है.

प्रदेश में बढ़ते हुए कोविड संक्रमण के साथ ही अस्पतालों में ऑक्सीजन और वेन्टीलेटर बेड की कमी देखने को मिल रही है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Chief Minister Hemant Soren) ने बैठक में शामिल होने से पूर्व उपायुक्त रांची में सदर अस्पताल का भी निरीक्षण किया और वहां शुरू हुई नई व्यवस्थाओं का जायजा लिया.

  • Share this:
रांची. राजधानी रांची (Ranchi) में भी कोरोना संक्रमितों (Corona infected) के आंकड़े सबसे ज्यादा होने के कारण जिला प्रशासन की तमाम तैयारियां फ्लॉप साबित दिख रही हैं. जिसपर जिला प्रशासन गंभीर है. इसी के मद्देनजर गुरुवार को सदर अस्पताल के निरीक्षण के दौरान रांची उपायुक्त को कई कमियां नज़र आई, तो वहीं डॉक्टर्स और मजिस्ट्रेट जिनकी प्रतिनियुक्ति सदर अस्पताल में कई गई थी वो नदारद नज़र आए. इसे उपायुक्त ने गम्भीरता से लिया और 30 लोगो को शो कॉज नोटिस (Show cause notice) जारी कर दिया. वहीं, मधुपुर चुनाव से चुनाव प्रचार से लौटे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गुरुवार को हाई लेवल मीटिंग बुलाई और कई अहम फैसले लिए.

प्रदेश में बढ़ते हुए कोविड संक्रमण के साथ ही अस्पतालों में ऑक्सीजन और वेन्टीलेटर बेड की कमी देखने को मिल रही है. मुख्यमंत्री के रांची पहुंचने के साथ ही आज महत्वपूर्ण बैठक की गई. वहीं, वीसी के माध्यम से रांची डीसी भी इस बैठक में शामिल हुए. उपायुक्त रांची छववि रंजन ने बताया कि बैठक में मुख्य रूप से 4 मुद्दों पर चर्चा कि गई, जिसमें टेस्टिंग, ट्रैकिंग, ट्रीटमेंट और इंफोर्समेन्ट शामिल रहे. वहीं, उपायुक्त रांची ने बताया कि जेनरल बेड की कोई किल्लत रांची में नहीं है. लेकिन ऑक्सीजन बेड और वेंटिलेटर बेड की कमी है, जिसे बढ़ाने की कोशिश की जा रही है. उपायुक्त ने बताया कि सदर अस्पताल में 240 ऑक्सीजन बेड गुरुवार रात से ही फंक्शनल हो जाएंगे. वहीं, रिसालदार chc में भी ऑक्सीजन पाइप लाइन के जरिए 90 बेड को बनाया जाएगा तो खेलगांव में भी 200 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था की जाएगी. रिसालदार और  खेलगांव में ये व्यस्था 10 दिनों के भीतर कर ली जाएगी. वहीं, उपायुक्त ने लोगों को घर में ही रहने की अपील की ताकि स्थिति और पैनिक न हो.

डीएम एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी

मुख्यमंत्री ने बैठक में शामिल होने से पूर्व उपायुक्त रांची में सदर अस्पताल का भी निरीक्षण किया और वहां शुरू हुई नई व्यवस्था की स्थिति देख उपायुक्त पर बिफर गए. होस्पिटल में डॉक्टर्स गायब पाए गए तो वहीं जिन मजिस्ट्रेट को प्रतिनियुक्त किया गया था उसमें भी ज्यादातर एब्सेंट पाए गए. वहीं, कोविड पेशेंट की देखभाल की जिम्मेवारी सम्भालने वाली एएनएम भी गायब दिखी. जिसके बाद रांची उपायुक्त ने सभी को शो कॉज नोटिस जारी कर दिया. जिनमें 8 डॉक्टर्स,18 एएनएम, 3 शिक्षक और एक कनिय अभियन्ता शामिल रहे. सभी को 24 घंटे के भीतर कार्यस्थलपर जॉइन करने के साथ स्पष्टीकरण देने का निर्देश दिया गया है. वर्ना इनपर डीएम एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज