Assembly Banner 2021

Ranchi News: जमीन का म्यूटेशन नहीं हुआ, तो 1 लाख की सुपारी देकर करवा दी राजस्व कर्मी की हत्या

गत 12 फरवरी को रांची के रातु इलाके में राजस्व कर्मी की हत्या कर दी गई थी.

गत 12 फरवरी को रांची के रातु इलाके में राजस्व कर्मी की हत्या कर दी गई थी.

Ranchi News: पैसा देने के बावजूद जमीन का म्यूटेशन नहीं होने के कारण फरार आरोपी ने प्रतिशोध में राजस्व कर्मचारी की हत्या करवा दी. इसके लिए अपराधियों को 1 लाख की सुपारी दी गई थी.

  • Share this:
रांची. गत 12 फरवरी को रांची के रातु ब्लॉक के राजस्व कर्मचारी की हत्या (Murder) कर दी गई थी. इस मामले में पुलिस (Ranchi Police) ने खुलासा करते हुए 4 आरोपियों को धर-दबोचा. दो आरोपियों की गिरफ्तारी जहां गढ़वा इलाके से हुई, वहीं दो आरोपियों को पुलिस ने रांची से ही गिरफ्तार किया. राजस्व कर्मचारी सत्यप्रकाश श्रीवास्तव की हत्या के लिए 1 लाख रुपए की सुपारी दी गई थी.

पुलिस के मुताबिक सुपारी देने वाला शख्स उपेंद्र फिलहाल फरार चल रहा है, जिसकी तलाश में छापेमारी की जा रही है. पूरा मामला जमीन के म्यूटेशन से जुड़ा हुआ है. म्यूटेशन का पैसा देने के बावजूद म्यूटेशन नहीं होने के कारण उपेन्द्र ने प्रतिशोध में राजस्व कर्मचारी की हत्या करवाई.

इस मामले में पुलिस ने आरोपी ज्ञान प्रकाश तिवारी और ऋषिकांत शर्मा को गढ़वा से, वहीं आशीष पांडे और मनीष कुमार को रांची से गिरफ्तार किया. आरोपियों ने पूछताछ में सुपारी देकर हत्या करवाने की बात का खुलासा किया. आरोपियों के पास से एक रिवाल्वर, एक पिस्टल, कारतूस, मोबाइल और बाइक बरामद किये गये.



रांची एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया कि 12 फरवरी को हत्या को अंजाम देने से पहले आरोपियों ने दो दिनों तक सत्यप्रकाश की रेकी की थी. घटना वाले दिन रातु अंचल कार्यालय के बाहर भी एक अपराधी तैनात था, जो राजस्व कर्मचारी के निकलने की जानकारी अपने साथियों को व्हाट्सऐप पर दिया. फिर साथियों ने राजस्व कर्मचारी की गोली मारकर हत्या कर दी. एसएसपी ने बताया कि मामले में मुख्य आरोपी उपेंद्र की गिरफ्तारी के बाद और भी लोगों के नाम सामने आ सकते हैं. इनमें कुछ सफेदपोश भी हो सकते हैं. संभव है कि राजस्वकर्मी की हत्या में रातु अंचल के भी अन्य कर्मी भी शामिल हों, लेकिन इस पर से पर्दा उठना बाकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज