जमीन विवाद में हत्याओं के दौर एेसे रोकेगी रांची पुलिस

रांची के एसएसपी अनीस गुप्ता का कहना है कि जमीन व्यवसाय से जुड़े लोगों के बीच पुरानी अदावत और पैसों की लेन-देन की वजह से विवाद होता है.

News18 Jharkhand
Updated: December 6, 2018, 5:44 PM IST
जमीन विवाद में हत्याओं के दौर एेसे रोकेगी रांची पुलिस
रांची में जमीन विवाद में हत्याओं का दौर जारी
News18 Jharkhand
Updated: December 6, 2018, 5:44 PM IST
राजधानी रांची में जमीन विवाद को लेकर हत्याओं का दौरा जारी है. इससे पुलिस की नींद उड़ी हुई है. तमाम प्रयासों के बावजूद इस सिलसिले पर ब्रेक नहीं लग पा रहा है. लिहाज पुलिस ने अब जमीन कारोबार से जुड़े बदमाशों की लिस्ट तैयारी करने की योजना बनाई है.

दरअसल राज्य गठन के बाद रांची सहित प्रदेश के अन्य शहरों में जमीन की कीमतों में अचानक इजाफा हुआ. एेसे में रातों रात अमीर बनने की चाहत रखने वाले लोग इस धंधे में जुड़ते चले गए. उधर पैसों की चाहत में अपराधी भी इस कारोबार में शामिल हो गये. यहां से जमीन विवाद और उसको लेकर खूनी संघर्ष का सिलसिला शुरू हुआ, जो जारी है.

कुख्यात अपराधियों और सफेदपोशों की जुगलबंदी की वजह से हालात दिन व दिन खराब होते जा रहे हैं. रांची के एसएसपी अनीस गुप्ता का कहना है कि जमीन व्यवसाय से जुड़े लोगों के बीच पुरानी अदावत और पैसों की लेन-देन की वजह से विवाद होता है. उन्होंने कहा कि जमीन व्यवसायियों के साथ थाने स्तर पर मीटिंग कर उनसे फीडबैक ली जाएगी. बतौर एसएसपी जमीन कारोबार से जुड़े अपराधियों की पहचान की जाएगी.

रांची में जमीन विवाद में हत्याएं 

3 दिसंबर को धुर्वा थाना क्षेत्र में जमीन व्यवसायी की हत्या की कोशिश

4 नवम्बर को कुख्यात अपराधी सोनू इमरोज की हत्या. सोनू का अपने ही मोहल्ले के दूसरे गैंग से जमीन को लेकर दुश्मनी थी.

26 अक्टूबर को कर्बला चौक के रहने वाले तौफीक अंसारी की जमीन विवाद में लालपुर में हत्या
Loading...

7 सितंबर को सीएम आवास के सामने सरेशाम पुलिस के पूर्व एसपीओ बुद्धू दास की गोली मारकर हत्या, वजह बुंडू में जमीन विवाद.

17 सितंबर को रांची के बड़ा तालाब के पास मोहम्मद तबरेज उर्फ राजा की जमीन विवाद में गोली मारकर हत्या

9 जून को कांके के जमीन कारोबारी जन्नत हुसैन की अपहरण के बाद हत्या

3 अप्रैल को कांके थाना क्षेत्र के बुकरू चौक के पास जमीन विवाद में व्यवसायी मनोज कुमार साहू उर्फ मंटू की हत्या.

इन इलाकों में जमीन विवाद के सबसे अधिक मामले 

रांची के एसएसपी का कहना है कि राजधानी के पिठोरिया, नामकुम, कांके, नगड़ी, पुंदाग, जगन्नाथपुर, रातु और धुर्वा में जमीन से जुड़े मामलों की तादाद ज्यादा है और इन इलाकों में थाना स्तर पर विशेष दिशा निर्देश दिए गए हैं.

बहरहाल राजधानी में जमीन की जंग में जिंदगियां खत्म होने का सिलसिला जारी है. पुलिस के लिए इसे रोक पाना आसान नहीं है.

ओमप्रकाश की रिपोर्ट

ये भी पढ़ें- मानव तस्कर के चंगुल से आजाद हुईं सात बच्चियां, कोलकाता पुलिस लेकर पहुंची पाकुड़

VIDEO: देखें कैसे थाने का प्राइवेट ड्राइवर युवकों पर जमा रहा था धौंस, वीडियो वायरल

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->