Home /News /jharkhand /

कचरे के ढेर में तब्दील हुई राजधानी रांची, नगर निगम के दावों की निकली हवा

कचरे के ढेर में तब्दील हुई राजधानी रांची, नगर निगम के दावों की निकली हवा

राजधानी रांची में शुरुआती बारिश ने ही शहर की सूरत बिगाड़ कर रख दी है.

राजधानी रांची में शुरुआती बारिश ने ही शहर की सूरत बिगाड़ कर रख दी है.

राजधानी रांची में शुरुआती बारिश ने ही शहर की सूरत बिगाड़ कर रख दी है.

    राजधानी रांची में शुरुआती बारिश ने ही शहर की सूरत बिगाड़ कर रख दी है.

    राजधानी के हरमू रोड पर नालियों का गंदा पानी सड़कों पर बहने लगा है. वैसे तो ये कोई नई बात नहीं है, सालों से यही यहां यही हाल है. नगर निगम दावे तो करता है, लेकिन उसे पूरा नहीं करता है. नतीजतन लोगों को गंदे पानी के बीच से गुजरना पड़ता है.

    हरमू रोड के जैसा हाल रातू रोड का भी है. दरअसल, नगर निगम की लापरवाही की वजह से नाली मरम्मत का काम अधूरा पड़ा है. ऐसे में नालियों का गंदा पानी सड़क पर बह रहा है.

    हरमू और रातू रोड के जैसा ही जयपाल सिंह स्टेडियम के पास का दृश्य देखने को मिलता है. यहां की स्थिति सबसे खराब है. नाली मरम्मत के नाम पर सड़क को बंद कर दिया गया है. नालियों का पानी सड़क पर बह रहा है. पूरा इलाका मानो गंदे नाले में तब्दील हो गया है.

    रांची के निचले इलाकों में घुसा नाली का पानी

    नालियों की सफाई नहीं होने से निचले इलाकों में गंदा पानी घरों में घुस गया है. राजधानी के नौवा टोली में भी गंदा पानी घरों में प्रवेश कर गया है. लोगों का कहना है कि, नगर निगम में शिकायत करने के बाद भी कार्रवाई नहीं होती है.

    बात सिर्फ नौवा टोली की नहीं है, बल्कि शहर के बाकी इलाकों में भी कमोबेश यही स्थिति है. बात चाहे हरमू रोड की हो या फिर रातू रोड की या फिर कचहरी रोड की, हर जगह कमोबेश यही स्थिति है. ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि आखिर रांची नगर निगम क्या कर रहा है. हालांकि, निगम का दावा है कि, उपलब्ध संसाधनों के आधार पर बेहतर कार्रवाई की कोशिश की जा रही है.

    Tags: Ranchi Municipal Corporation

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर