Assembly Banner 2021

रांची के नन्हे विराट ने उल्टा टेबल सुनाकर दर्ज कराया इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम

7 बरस के विराट ने महज 11 मिनट 6 सेकेंड में सुना दी 72 से लेकर 2 तक की उल्टी टेबल.

7 बरस के विराट ने महज 11 मिनट 6 सेकेंड में सुना दी 72 से लेकर 2 तक की उल्टी टेबल.

7 साल के विराट ने 75 से 2 तक का उलटा पहाड़ा 11 मिनट 6 सेकंड में सुनाकर इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराया है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने उसके उज्ज्वल भविष्य की कामना की.

  • Share this:
रांची. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर झारखंड हमेशा सुर्खियों में रहा है. इन सुर्खियों की वजह यहां के क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी भी रहे, तीरंदाज दीपिका भी रही. धनबाद कोयला माफिया पर बनी फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर ने भी इस इलाके का नाम रोशन किया. अब इस लिस्ट में 7 साल के नन्हे विराट का भी नाम जुड़ गया है. कम उम्र में विराट ने 75 से 2 तक का उलटा पहाड़ा 11 मिनट 6 सेकंड में सुनाकर इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराया है. गुरुवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराने वाले 7 वर्षीय मास्टर विराट माकन ने मुलाकात की.

सीएम हेमंत सोरेन ने दी बधाई

सीएम सोरेन ने विराट को बधाई देते हुए उसके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है. विराट माकन की खासियत है कि वह मल्टीप्लिकेशन टेबल को स्ट्रेट और रिवर्स दोनों ही ऑर्डर में आसानी से सुना देता है. विराट की इस क्षमता को संवारने में उसके पिता गगन माकन ने अहम भूमिका निभाई है.



अगला लक्ष्य 'एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड'
गगन माकन नामकुम में एकेडमी चलाते हैं. उन्होंने लॉकडाउन के दौरान विराट को स्ट्रेट और रिवर्स ऑर्डर में मल्टीपल टेबल पढ़ाने का अभ्यास करना शुरू किया था. इसमें विराट इस कदर पारंगत हो गया कि उसका नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज हो गया. अब विराट का लक्ष्य एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में नाम दर्ज कराने का है. इसके साथ ही वह गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराने के लिए अपने इस महारत को और धारदार करने में जुटा हुआ है.

रांची का कैलकुलेटर ब्वाय

विराट को रांची में लोग कैलकुलेटर ब्वाय के नाम से भी पुकारने लगे हैं. रांची का विराट देश का ऐसा पहला बच्चा है, जिसने यह कारनामा कर दिखाया अब उसका सपना अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाने का है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज