• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • झारखंड के 'भविष्य' पर तंबाकू का ग्रहण, सामने आया चिंताजनक सर्वे

झारखंड के 'भविष्य' पर तंबाकू का ग्रहण, सामने आया चिंताजनक सर्वे

झारखंड में 5 प्रतिशत किशोर-किशोरी तंबाकू का सेवन करते हैं.

झारखंड में 5 प्रतिशत किशोर-किशोरी तंबाकू का सेवन करते हैं.

Jharkhand News: स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि देश में 13 से 15 वर्ष के आयु वर्ग में 8.5 प्रतिशत छात्र/छात्रा किसी न किसी रूप में तम्बाकू का सेवन करते हैं. जबकि झारखण्ड में 5.1 प्रतिशत छात्र/छात्रा किसी न किसी रूप में तम्बाकू लेते हैं.

  • Share this:

रांची. वैश्विक युवा तंबाकू सर्वेक्षण (GYTS सर्वे 2019) में यह सामने आयी है कि झारखंड के 5.1 प्रतिशत किशोर और किशोरी किसी ना किसी रूप में तंबाकू का सेवन करते हैं. झारखंड तंबाकू नियंत्रण कोषांग और सीड्स के संयुक्त तत्वावधान में आईपीएच सभागार नामकुम कार्यक्रम आयोजित किया गया. कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि तंबाकू कंपनियां अपना व्यापार बढ़ाने के लिए लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रही हैं. कंपनियां अब लड़कों के साथ-साथ लड़कियों में भी इसका प्रचलन बढ़ाने के लिए काम कर रही हैं.

बन्ना गुप्ता ने कहा कि भारत सरकार के ग्लोबल यूथ टोबैको सर्वे के अनुसार भारत में 13 से 15 वर्ष के आयु वर्ग में 8.5 प्रतिशत छात्र/छात्रा किसी न किसी रूप में तम्बाकू का सेवन करते हैं. जबकि झारखण्ड में 13 से 15 वर्ष के आयु वर्ग में 5.1 प्रतिशत छात्र/छात्रा किसी न किसी रूप में तम्बाकू का सेवन करते हैं.

उन्होंने कहा कि कोटपा, 2003 के प्रावधानों को लागू करने का मुख्य उद्देष्य कम उम्र के युवाओं एवं छात्र/छात्राओं को तम्बाकू उत्पाद की पहुंच से रोकना है. इस हेतु कोटपा का शत प्रतिशत अनुपालन किया जाना चाहिए.

स्वास्थ्य मंत्री ने कार्यक्रम में उपस्थित केन्द्र सरकार के प्रतिनिधियों को झारखण्ड विधानसभा से पास कोटपा संशोधन बिल-2021 के तर्ज पर केन्द्रीय कोटपा कानून में संशोधन करने का अनुरोध किया.

झारखंड सरकार तम्बाकू के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने के लिए कमर कस ली है. सरकार ने इसके लिए विधानसभा में बिल भी पारित किया है, जिसमें तम्बाकू के इस्तेमाल एवं इसके व्यवसाय में संलग्न लोगों की उम्रसीमा को 18 से बढ़ाकर 21 वर्ष का प्रावधान किया गया है. सरकार ने सार्वजनिक जगहों पर तम्बाकू के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाया है. साथ ही स्कूल, कॉलेज, सरकारी संस्थान, कोर्ट आदि के 100 मीटर दायरे में इसके बेचने व इस्तेमाल करने पर भी प्रतिबंध लगाया गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज