रांची: रिम्स की कार पार्किंग को बनाया कोविड सेंटर, 400 ऑक्सीजन बेड तैयार, 100 लोगों का होगा इलाज

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रिम्स जाकर कार पार्किंग में बने कोविड सेंटर का जायजा लिया.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रिम्स जाकर कार पार्किंग में बने कोविड सेंटर का जायजा लिया.

Ranchi Cororna News: रांची स्थित रिम्स अस्पताल के कार पार्किंग को कोविड सेंटर में तब्दील किया गया है. यहां 400 बेड तैयार हैं. इसके अलावा रिसालदार बाबा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भी 100 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था की गई है.

  • Share this:
रांची. झारखंड में कोरोना की बढ़ती रफ्तार के साथ राज्य की हेमंत सोरेन सरकार ने भी कार्ययोजना की रफ्तार बढ़ा दी है. सोमवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने रिम्स (RIMS) परिसर में तैयार किये जा रहे 400 बेड और रिसालदार बाबा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में तैयार 100 ऑक्सीजन युक्त बेड का निरीक्षण किया. मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि ये समय संक्रमण से मिलजुल कर लड़ने का है. आज लोगों को ऑक्सीजनयुक्त बेड की आवश्यकता है. इसलिए सर्किट की शुरुआत की गई है.

सीएम ने कहा कि रिसालदार बाबा अस्पताल में ऑक्सीजन युक्त 100 बेड तैयार कर लिया गया है. रिम्स के कार पार्किंग को कोविड सेंटर में तब्दील किया गया है. यहां 400 बेड होंगे, जिसमें 350 के अलावा 50 अतिरिक्त बेड शामिल हैं. इटकी सैनिटोरियम को लेकर कार्य योजना तैयार की जा रही है.

सीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह का कड़ाई से पालन करें. आपके परिवार की सुरक्षा आपके ही हाथ में है. गुजरात के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है. ऑक्सीजन के लिये कुछ उपकरण के ऑडर दिये गये हैं. उनसे हमने अनुरोध किया है कि जो पहले ऑडर दिए गए उसे जल्द से जल्द भेजा जाए.

1 मई से ही 18+ वालों को लगेगा कोरोना टीका
इधर, झारखंड सरकार युवाओं को कोरोना का टीका लगाने की भी तैयारी में जुट गई है. प्रभारी हेल्थ सेक्रेटरी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि अभी राज्य में कोवीशील्ड और कोवैक्सिन के लगभग 6.65 लाख टीके सुरक्षित हैं. इसके अलावा 50 लाख टीके की मांग केंद्र सरकार से की गई है. इसमें 30 लाख पुरानी मांग पेंडिंग और 20 लाख टीके की नई डिमांड की गई है.

उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने राज्य सरकार को आश्वासन दिया है कि 15 दिनों के भीतर राज्य सरकार की डिमांड के मुताबिक सारे टीके उपलब्ध करा दिए जाएंगे. इसके अलावा राज्य सरकार की तरफ से 25 लाख डोज सीधा टीका बनाने वाली कंपनियों को ऑर्डर किए गए हैं. वहां से भी तय समय से मिलने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज