राजद ने कहा असफलता के एक हजार दिन

Upendra Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: September 16, 2017, 6:59 PM IST
राजद ने कहा असफलता के एक हजार दिन
गौतम सागर राणा प्रदेश अध्यक्ष, राजद, झारखंड
Upendra Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: September 16, 2017, 6:59 PM IST
राष्ट्रीय जनता दल की झारखंड प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के बाद राष्ट्रीय जनता दल ने रघुवर सरकार के एक हजार दिन को असफलता के एक हजार दिन करार दिया. पार्टी कार्यालय में बैठक के बाद आयोजित संवाददाता सम्मेलन में राजद के प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने रघुवर सरकार के जनविरोधी फैसलों के खिलाफ जनजागरण यात्रा शुरू करने की घोषणा की.

राजद अध्यक्ष ने यह जानना चाहा कि भाजपा में लोकतंत्र की बात करनेवाले बताएं कि कई भाजपा नेताओं के पुत्र किस योग्यता से पार्टी के कर्णधार बने हुए हैं. उन्होंने रोहिंग्या मुसलमानों को मानवता के आधार पर सहायता करने की मांग की. राजद सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वर्षो से गरमजरुआ जमीन पर रह रहे लोगों से जमीन हड़पने का षडयंत्र चल रहा है.

उन्होंने कहा कि इन्हीं एक हजार दिनों में बच्चे बिलबिला कर मर गए. बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन 'के' की आवश्यकता होती है. इसका ड्रॉप या फिर इंजेक्शन नवजात शिशुओं को दिया जाता है.  मगर राज्य सरकार पिछले 1000 दिनों में बच्चों दवा का यह ड्रॉप देने में पूरी तरह असफल रही.

राजद नेता ने अमित शाह के कार्यक्रम के स्वागत बैनर में प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ का एक तस्वीर नहीं होने का हवाला देते हुए कहा कि भाजपा राज में झारखंड के लोगों को नजरअंदाज किया जा रहा है.
First published: September 16, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर