5 दिवसीय दौरे में आरपीएन सिंह ने पहले दिन की कई बैठकें, संगठन का हाल जाना और दिया होमवर्क
Ranchi News in Hindi

5 दिवसीय दौरे में आरपीएन सिंह ने पहले दिन की कई बैठकें, संगठन का हाल जाना और दिया होमवर्क
कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह

मिशन 2019 की तैयारी में जुटी कांग्रेस इन दिनों संगठन मजबूती के साथ-साथ विपक्षी एकता पर खासा ध्यान दे रही है.

  • Share this:
अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों ने तैयारी शुरु कर दी है. कांग्रेस ने लक्ष्य 2019 नाम देते हुए पार्टी के सभी नेताओं को चुनावी जंग के लिए तैयार रहने को कहा है. प्रदेश संगठन की मौजूदा स्थिति और चुनावी तैयारी को लेकर कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह पांच दिनों के झारखंड दौरे पर है. पहले दिन आरपीएन सिंह ने कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक मोर्चा-संगठन के साथ बैठक करते हुए संगठन का हाल जाना और उन्हें होमवर्क भी दिया.

मिशन 2019 की तैयारी में जुटी कांग्रेस इन दिनों संगठन मजबूती के साथ-साथ विपक्षी एकता पर खासा ध्यान दे रही है. झारखंड में कमजोर हो चुकी पार्टी को मजबूत बनाना एक बहुत बड़ी चुनौती है. जिसे पूरा करने में लगे कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह एक बार फिर इन दिनों टीचर की भूमिका में हैं. अपने पांच दिवसीय दौरे में आरपीएन सिंह ने पहले दिन ही कई बैठकें की. कांग्रेस भवन में महिला कांग्रेस, ओबीसी विभाग, एससी-एसटी विभाग, अल्पसंख्यक विभाग सहित आधा दर्जन से अधिक पार्टी की संगठन और मोर्चा की पूरी समीक्षा की.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अजय कुमार और सहप्रभारी उमंग सिंगार की मौजूदगी में एक के बाद एक मोर्चा संगठनों का क्लास चलता रहा. होमवर्क के रुप में अगस्त महीने तक बूथ से लेकर जिलास्तर तक में कमिटी बनाने का निर्देश देते हुए आरपीएन सिंह ने लक्ष्य 2019 के तहत सभी को एकजुट होकर चुनावी जंग में उतरने का निर्देश दिया.



2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस खाता भी नही खोल पाई थी. राज्य की 14 सीटों में से 12 सीटें भाजपा की झोली में आया था वहीं दो सीट पर झामुमो ने कब्जा जमाया था. ऐसे में 2019 के जंग को लक्ष्य 2019 के रुप में मान रही कांग्रेस इसकी तैयारी में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है. देखना होगा आरपीएन का चुनावी मंत्र कांग्रेस के लिए कितना कारगर साबित होता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज