रांची में पोस्टऑफिस में 32 लाख की हेराफेरी, खाताधारकों के नाम पर फर्जी तरीके से ले लिये लोन

हेराफेरी के इस मामले में दो पूर्व पोस्टमास्टर भी भूमिका संदेह के घेरे में है.

हेराफेरी (Cheating) के इस मामले में कुल 74 लोग पीड़ित बताए गये हैं. इनका इस पोस्टऑफिस में आरडी अकाउंट था. इनलोगों के खाते के नाम पर लोन (Loan) लेकर फर्जीवाड़ा किया गया.

  • Share this:
रांची. झारखंड की राजधानी रांची (Ranchi) के डेली मार्केट थानाक्षेत्र में पोस्टऑफिस में करीब 32 लाख रुपए की हेराफेरी (Cheating) का मामला प्रकाश में आया है. इस सिलसिले में पोस्टल डिपार्टमेंट की तरफ से डेली मार्केट थाने में मामला (Case) दर्ज कराया गया है. चार लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है. इनमें दो पूर्व पोस्टमास्टर, एजेंट और उसके एक प्रतिनिधि शामिल हैं.

हेराफेरी के इस मामले में कुल 74 लोग पीड़ित बताए गये हैं. इनका इस पोस्टऑफिस में आरडी अकाउंट था. इनलोगों के खाते के नाम पर लोन लेकर फर्जीवाड़ा किया गया. प्रत्येक खाते के नाम पर 19 से 20 हज़ार तक का लोन लिया गया. जबकि किसी भी खाताधारक ने लोन के लिए अप्लाई किया ही नहीं था.

मामले का खुलासा तब हुआ जब खाताधारकों को लोन चुकता करने का नोटिस भेजा गया. पीड़ित खाताधारकों ने इसकी शिकायत पोस्टऑफिस से की. पोस्टऑफिस ने इनके खाते की जांच की, तो फर्जीवाड़े का मामला उजागर हुआ. इस मामले में दो पूर्व पोस्टमास्टर की संलिप्ता सामने आई.

2016 से चल रहा था हेराफेरी का खेल

विभागीय जांच के बाद पोस्टल डिपार्टमेंट की तरफ से डेली मार्केट थाने में इस मामले में केस दर्ज कराया गया है. जानकारी के अनुसार ये पूरा खेल 2016 से 2020 के बीच किया गया. उस वक्त इस पोस्टऑफिस में पदस्थापित दो पोस्टमास्टर की भूमिका सवालों के घेरे में है. वहीं एक एजेंट और एजेंट के प्रतिनिधि पर भी केस दर्ज कराया गया है. अब तक की जांच में प्रतिनिधि शुभम गुप्ता के द्वारा पूरी साजिश रची जाने की बात सामने आई है.

डेली मार्केट थाना के प्रभारी राजेश कुमार सिन्हा ने कहा कि फिलहाल अनुसंधान किया जा रहा है. चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.