झारखंड: दुर्गा पूजा को लेकर सरकार की गाइडलाइंस से मूर्तिकारों पर टूटा मुसीबतों का पहाड़, जानें पूरा मामला

दूर्गा पूजा को लेकर झारखंड सरकार ने गाइडलाइंस जारी की है. (फाइल फोटो)
दूर्गा पूजा को लेकर झारखंड सरकार ने गाइडलाइंस जारी की है. (फाइल फोटो)

रांची के मूर्तिकार अजय पाल बताते हैं कि कोरोना काल (Corona Crisis) और सरकार के निर्देशों ने सालभर की पूरी आमदनी और बजट को बर्बाद कर दिया है.

  • Share this:
रांची. राजधानी रांची में इस बार त्योहारों के मौसम पर कोरोना (Corona) का ग्रहण लगता नजर आ रहा है. दुर्गा पूजा (Durga Puja) को लेकर राज्य सरकार की नई गाइडलाइन्स ने मूर्तिकारों और पूजा समितियों की परेशानी बढ़ा दी है. इस बार रांची में दुर्गा पूजा के दौरान भक्ति का रंग भले ही देखने को मिले, लेकिन मेले की रौनक गायब रहेगी. राज्य सरकार ने इसको लेकर गाइडलाइन जारी कर दी है.

दुर्गापूजा को लेकर राज्य सरकार की गाइडलाइंस

>> मूर्तियों की ऊंचाई 4 फीट तक होगी.



>>बिना पंडाल के होगी पूजा.
>>भोग वितरण पर सख्त मनाही.

>>पूजा में नहीं होगी लाइटिंग.

>>श्रद्धालुओं की मौजूदगी पर भी रोक.

गाइडलाइन्स से बढ़ी मूर्तिकारों की परेशानी

सरकार ने कई पाबंदियां के साथ दुर्गापूजा करने की अनुमति दी है. ऐसी हालत में राजधानी रांची के मूर्तिकारों और पूजा समितियों के सामने परेशानियों का पहाड़ खड़ा हो गया है. चर्चित मूर्तिकार अजय पाल बताते हैं कि संक्रमण काल और सरकार के निर्देशों ने सालभर की पूरी आमदनी और बजट को बर्बाद कर दिया है. अजय पाल इस बार भी रांची के तमाम बड़े पंडालों की मूर्तियों को बनाने की जिम्मेदारी निभा रहे हैं. लेकिन इस बार मूर्तियों के छोटे आकार ने आमदनी को भी छोटा कर दिया है.

पिछले साल भारतीय नवयुवक संघ यानि बकरी बाजार की मूर्ति की कीमत करीब 3 लाख थी, जो इस बार महज 50 से 55 हजार रुपये रह गयी है. हालांकि हमेशा की तरह तमाम मूर्तियों में इस बार भी कोलकाता की मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है. वहीं रांची जिला दुर्गा पूजा समिति की माने तो एक बार मुख्यमंत्री से मिलकर पूजा को लेकर थोड़ी छूट की मांग की जाएगी.

सवाल यह है कि सरकार की गाइडलाइन से पहले मूर्तिकारों ने बड़ी मूर्तियों के बदले पूजा समितियों से जो एडवांस लिया है, उस मुसीबत से आखिर कैसे निपटा जाए. बहरहाल बदली परिस्थितियों में पूजा में रौनक कम और इसका साइड इफेक्ट्स ज्यादा नजर आ रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज