मारपीट करनेवाले सीनियर डॉक्टरों को शो कॉज

कार्डियोलॉजी के हेड और सेंकेंड हेड के बीच मारपीट से जहां रिम्स शर्मसार हुआ है वहीं सरकार की भी फजीहत हुई है.

Upendra Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: January 13, 2018, 11:24 PM IST
मारपीट करनेवाले सीनियर डॉक्टरों को शो कॉज
रामचंद्र चंद्रवंशी स्वास्थ्यमंत्री, झारखंड
Upendra Kumar
Upendra Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: January 13, 2018, 11:24 PM IST
सूबे के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल रिम्स में दो सीनियर डॉक्टरों के बीच मारपीट की घटना को सरकार ने गंभीरता से लिया है. स्वास्थ्यमंत्री के आदेश पर दोनों चिकित्सकों को शो कॉज किया गया है. वहीं तीन सदस्यीय जांच टीम पूरे मामले की जांच करेगी. इस बीच रिम्स चिकित्सकों की एक टीम ने निदेशक से मिलकर कार्डियोलॉजी में बाहर से गेस्ट फैकल्टी बुलाने का विरोध जताया है.

रिम्स में कल शुक्रवार को कार्डियोलॉजी विभाग के दो सीनियर डॉक्टरों के बीच हुई मारपीट की घटना के बाद स्वास्थ्यमंत्री के निर्देश पर जांच कमिटी दी गई है. वहीं मारपीट करनेवाले दोनों चिकित्सकों को शो कॉज जारी किया गया है.

कल की घटना के बाद रिम्स के चिकित्सक भी दो समुह में बंटें नजर आ रहे हैं. कोई दबी जुबान से तो कोई खुलकर रिम्स कार्डियोलॉजी के एचओडी की कार्यपद्धति का विरोध कर रहा है तो कोई उन्हें सही बता रहा है. आज कई विभागों के डॉक्टर ने कल की घटना को लेकर रिम्स निदेशक के साथ बैठक की और मांग की कि इस तरह की घटना के कारणों पर रोक लगाई जाए.

कार्डियोलॉजी के हेड और सेंकेंड हेड के बीच मारपीट से जहां रिम्स शर्मसार हुआ है वहीं सरकार की भी फजीहत हुई है. इसीलिए सरकार के प्रतिनिधि के रूप में भाजपा विधायक ने भी रिम्स पहुंचकर पूरे मामले की जांच की और घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया.

अब तक रिम्स के जूनियर डॉक्टरों और मेडिकल छात्रों पर रोगी और उनके परिजनों के साथ अशोभनीय व्यवहार करने का आरोप लगते रहे हैं. परं दो वरीय चिकित्सकों के बीच की हिंसक झड़प के बाद अब जरूरत कठोरतम कार्रवाई करने की है ताकि रिम्स की प्रतिष्ठा बनी रहे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर