होम /न्यूज /झारखंड /

Jharkhand Mob Lynching: तबरेज अंसारी की हत्या मामले में 6 आरोपियों को हाईकोर्ट से मिली जमानत

Jharkhand Mob Lynching: तबरेज अंसारी की हत्या मामले में 6 आरोपियों को हाईकोर्ट से मिली जमानत

आरोपी लगभग 6 महीने से जेल में बंद थे (Demo Pic)

आरोपी लगभग 6 महीने से जेल में बंद थे (Demo Pic)

तबरेज अंसारी की हत्या मामले (Tabrez Ansari s murder case) में रांची उच्च न्यायालय से सभी छह आरोपियों को जमानत दे दी. आरोपी लगभग 6 महीने से जेल में बंद थे.

    रांची. झारखंड के सरायकेला में चोरी के आरोप में भीड़ द्वारा पीट-पीट मारे गए तबरेज अंसारी की हत्या (Tabrez Ansari murder case) मामले में 6 आरोपियों को मंगलवार को हाईकोर्ट (High Court) से जमानत मिल गई. झारखंड हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति आर मुखोपाध्याय की पीठ ने भीमसेन मंडल, चामू नायक, महेश महली, सत्यनारायण नायक, मदन नायक, विक्रम मंडल को इस मामले में छह माह बाद जमानत दी है. सभी आरोपियों ने हाईकोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की थी.

    सुनवाई के दौरान इनके अधिवक्ता ए.के.साहनी ने पीठ को बताया कि तबरेज अंसारी मामले में इनका नाम प्राथमिकी में नहीं है और न ही नामजद आरोपित पप्पू मंडल ने पुलिस को दिए अपने बयान में इनका नाम लिया है. इस सब के बावजूद सभी आरोपी लगभग छह माह से जेल में बंद हैं.

    आरोपियों के वकील ने पीठ को बताया गया कि 18 जून 2019 को चोरी के आरोप में तबरेज अंसारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था और सीजेएम कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया. 22 जून को उसकी तबीयत खराब हुई और इलाज के दौरान सरायकेला के सदर अस्पताल में तबरेज की मौत हो गई. ऐसे में यह हिरासत में हुई मौत का मामला है. इसलिए इनको जमानत मिलनी चाहिए.

    इस दौरान प्रतिवादी की ओर से इनकी जमानत का विरोध किया गया और कहा गया कि मारपीट की घटना में सभी लोग शामिल थे. दोनों पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने छह आरोपियों को जमानत दे दी.

    भीड़ हिंसा के इस मामले में तबरेज की पत्नी एस परवीन ने प्राथमिकी दर्ज कराई, जिसमें आरोप है कि तबरेज को भीड़ ने एक खंभे से बांध कर उसकी पिटाई की थी. इसकी वजह से उसकी मौत हो गई. इस मामले में पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया था.

    Tags: Mob lynching, Ranchi High Court

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर