लाइव टीवी

चारा घोटाला मामला: CBI की याचिका पर लालू को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस
Patna News in Hindi

एएनआई
Updated: February 14, 2020, 12:56 PM IST
चारा घोटाला मामला: CBI की याचिका पर लालू को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस
लालू की जमानत के खिलाफ CBI की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट ने भेजा नोटिस (फाइल फोटो)

रांची हाईकोर्ट (Ranchi High Court) ने देवघर कोषागार से अवैध निकासी मामले में लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को जमानत दी थी.

  • Share this:
रांची. चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (RJD) प्रमुख लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को नोटस जारी किया. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने यह नोटिस सीबीआई (CBI) की अपील पर दिया है जिसमें जांच एजेंसी ने रांची हाईकोर्ट द्वारा लालू को जमानत देने का विरोध किया है. दरअसल, रांची हाईकोर्ट ने देवघर कोषागार से अवैध निकासी मामले में लालू को जमानत दी थी.




लालू को सुनाई थी साढ़े 3 साल की सजा
शुक्रवार सीजेआई शरद अरविंद बोबड़े की अध्यक्षता वाली तीन जजों की बेंच ने लालू प्रसाद यादव को नोटिस जारी किया है. बता दें कि 12 जुलाई 2019 को हाईकोर्ट ने लालू को चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में जमानत दी थी. यह मामला देवघर कोषागार से 90 लाख रुपए की अवैध निकासी का है. जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की कोर्ट ने 50-50 हजार रुपए के दो निजी मुचलके पर उन्हें जमानत दी थी. सीबीआई कोर्ट ने इस मामले में लालू प्रसाद को साढ़े तीन साल की सजा सुनाई थी. 10 लाख रुपए जुर्माना भी लगाया था.आधी सजा काट चुके हैं लालू
लालू प्रसाद को देवघर कोषागार से अवैध निकासी के मामले में सीबीआई कोर्ट ने साढ़े तीन साल की सजा सुनाई है. इस मामले में वह डेढ़ साल से जेल में है. करीब आधी सजा वह काट चुके हैं. लालू प्रसाद ने इसी आधार पर जमानत देने के लिए याचिका दायर की थी. आधी सजा काटने पर सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट ने कई दोषियों को जमानत दी है. इसी को आधार बनाते हुए लालू प्रसाद ने जमानत याचिका दायर की थी और जमानत पाई थी.

सीबीआई ने दी याचिका
इसी मामले में सीबीआई की ओर से पहले ही एक याचिका दायर की गई थी. इसमें हाईकोर्ट से साढ़े तीन साल की सजा को बढ़ाने का आग्रह किया गया था. सीबीआई का कहना है कि लालू के साथ अन्य कई आरोपियों को पांच साल की सजा सुनायी गयी. लालू पर भी वही आरोप हैं. इस कारण उनकी सजा साढ़े तीन साल से बढ़ाकर पांच साल करनी चाहिए.

ये भी पढ़ें: निर्भया मामला: दोषी पवन के डेथ वारंट पर ट्रायल कोर्ट में आज सुनवाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 12:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर