RIMS में पिता लालू प्रसाद से मिलने के बाद बोले तेज प्रताप- नाराज नहीं हैं रघुवंश प्रसाद सिंह
Patna News in Hindi

RIMS में पिता लालू प्रसाद से मिलने के बाद बोले तेज प्रताप- नाराज नहीं हैं रघुवंश प्रसाद सिंह
रांची के RIMS में पिता लालू प्रसाद यादव से मिलने से पहले कोविड टेस्ट करवाते हुए तेज प्रताप यादव.

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा (JMM) के बिहार चुनाव में उम्मीदवार खड़ा करने के सवाल पर तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने कहा कि झामुमो को लेकर लालू प्रसाद और तेजस्वी फैसला लेंगे. 

  • Share this:
रांची. राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (RJD President Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने जेल प्रशासन से विशेष अनुमति लेकर अपने पिता से मुलाकात की. रिम्स के निदेशक आवास में हुई इस मुलाकात के बारे में कयास लगाए जा रहे हैं कि आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh prasad singh) को लेकर दिए उनके 'एक लोटा' वाले बयान से नाराज लालू ने तेज प्रताप को तलब किया था. मुलाकात के बाद तेज प्रताप ने कहा कि वह अपने बीमार पिता का हाल-चाल ने के लिए आये थे. हालांकि बातों- बातों में यह कह गए कि पिता के साथ बैठकर चुनाव की रणनीति बनी है जिसको बिहार चुनाव में इम्पलीमेंट किया जाएगा.

जदयू के आधे विधायक सम्पर्क में- तेजप्रताप
लालू प्रसाद से मुलाकात के बाद राजद के प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह के आवास में ठहरे तेज प्रताप यादव ने कहा कि जनता दल यू का आधे विधायक RJD सम्पर्क में हैं. रघुवंश प्रसाद सिंह की कोई नाराजगी नहीं है. बता दें कि लोजपा के पूर्व सांसद रामा सिंह की आरजेडी में एंट्री की खबरों से खफा रघुवंश प्रसाद सिंह पर तेज प्रताप ने कहा था कि समुद्र से एक लोटा पानी निकल जाये तो क्या फर्क पड़ेगा.

पहले कोरोना टेस्ट, फिर हुई मुलाकात
तेज प्रताप दोपहर 12.30 बजे करीब लालू से मिलने पहुंच गए पर रिम्स प्रबंधन ने लालू प्रसाद के चिकित्सकों की सलाह पर पहले कोरोना टेस्ट करवाया, और जब रिपोर्ट नेगेटिव आई तो मुलाकात की इजाजत दी. इसके बाद तेजप्रताप का अधीक्षक चैम्बर में जाकर कोरोना जांच के लिए  सैम्पल लिया गया, रैपिड एंटीजेन किट से जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही मुलाकात की इजाजत मिली.



एक साथ पिता-पुत्र ने किया भोजन
काफी लंबे अरसे बाद लालू प्रसाद से मिलने उनके बड़े पुत्र तेज प्रताप रांची आये थे. शुरुआती मुलाकात की औपचारिकता के बाद तेज प्रताप और लालू प्रसाद ने एक साथ दोपहर का भोजन किया और उसके बाद दोनों बंगले के दक्षिण वाले कमरे में चले गए. करीब डेढ़ से दो घंटे तक लालू प्रसाद और तेज प्रताप की बंद कमरे में बात हुई. इस दौरान राजद और लालू समर्थक का जमावड़ा निदेशक बंगला के बाहर लगा रहा.

बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था बदतर-तेजप्रताप
तेजप्रताप ने लालू प्रसाद के स्वास्थ्य को  ठीक बताते हुए बिहार के सरकारी अस्पतालों में व्यवस्था को ध्वस्त बताया. उन्होंने सीएम  नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि बिहार में अस्पताल और स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल बदतर है और  सरकार नींद की गोली खाकर सोयी हुई है. तेज प्रताप ने कहा कि अस्पताल में न ठीक से कोरोना का इलाज हो रहा है और न ही जांच की कोई व्यवस्था है. हर तरफ त्राहिमाम की स्थिति है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज