तेजस्विनी योजना से झारखंड सरकार युवतियों को बनाएगी सशक्त

Amita | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: September 12, 2017, 10:48 PM IST
तेजस्विनी योजना से झारखंड सरकार युवतियों को बनाएगी सशक्त
तेजस्विनी योजना के तहत प्रशिक्षण लेतीं युवतियां फोटो-ईटीवी
Amita | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: September 12, 2017, 10:48 PM IST
शिक्षा और कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से युवा महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर झारखंड में महिलाओं के लिए कौशल प्रशिक्षण देने  के लिए तेजस्विनी योजना की शुरुआत की .

योजना  राज्य महिला एवं बाल कल्याण विभाग द्वारा विश्व बैंक के सहयोग से संचालित होगी और जल्द ही इस योजना को 17 जिलों में शुरू किया जाएगा.  आर्थिक रूप से कमजोर और अशिक्षित किशोरियों और युवतियों को रोजगार के लिए पलायन करने से रोकने के उद्देश्य से इस  तेजस्वनी योजना को तैयार किया गया है.

शुरुआती दौर में इस योजना को राज्य के 17 जिलों में पहले लागू किया जाएगा. जिसके तहत14 से 24 वर्ष तक की किशोरी और युवतियों को बाजार में जिन चीजों की जरूरत होगी उन्हें पूरा करने के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा. महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री की मानें तो तैयारियां की जा चुकी हैं और अक्टूबर  से जिलों में काम शुरू होगा.

सरकार लड़कियों को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करेगी ताकि वे राज्य में रोजगार के अवसर प्राप्त कर सकें और सरकार राज्य में मीट्रिक तक लड़कियों की शिक्षा पूरी करने में मदद इसके अंतर्गत , सरकार ने लड़कियों को कौशल प्रशिक्षण देने  के लिए 48 पद बनाए हैं, इस योजना के तहत अगले पांच सालों में 540 करोड़ रुपए खर्च किए जाएगा.
First published: September 12, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर