लाइव टीवी

कानून जनता को डराने के लिए नहीं, सुरक्षा के लिए होता है- CM हेमंत सोरेन

भाषा
Updated: January 9, 2020, 10:51 PM IST
कानून जनता को डराने के लिए नहीं, सुरक्षा के लिए होता है- CM हेमंत सोरेन
हेमंत सोरेन ने किया ये ट्वीट

धनबाद में हाल में सीएए के खिलाफ बिना अनुमति हुए प्रदर्शन के मामले में पुलिस द्वारा सात लोगों पर नामजद और तीन हजार अन्य अज्ञात लोगों पर राजद्रोह का मामला दर्ज किए जाने के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने यह ट्वीट किया.

  • Share this:
रांची.  झारखंड (Jharkhand) के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने गुरुवार को कहा कि कानून जनता को डराने और उसकी आवाज दबाने के लिए नहीं, बल्कि आम जन-मानस में सुरक्षा का भाव उत्पन्न करने के लिए होता है. धनबाद में हाल में सीएए के खिलाफ बिना अनुमति हुए प्रदर्शन के मामले में पुलिस द्वारा सात लोगों पर नामजद और तीन हजार अन्य अज्ञात लोगों पर राजद्रोह का मामला दर्ज किए जाने के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने यह ट्वीट किया.

उक्त घटना के बाद सरकार के निर्देश पर सभी आरोपियों से राजद्रोह का आरोप वापस ले लिया गया था और संबद्ध थाने के प्रभारी को ‘कारण बताओ’ नोटिस जारी किया गया था. सोरेन ने कहा, 'मेरे नेतृत्व में चल रही सरकार में क़ानून जनता की आवाज को बुलंद करने का कार्य करेगा'.

उन्होंने कहा कि धनबाद में तीन हजार लोगों पर लगाई गई राजद्रोह की धारा को अविलंब निरस्त करने के साथ दोषी अधिकारी के खिलाफ समुचित करवाई की सिफारिश कर दी गयी है. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘साथ ही मैं झारखंड के सभी भाइयों, बहनों से अपील करना चाहूंगा कि राज्य आपका है, यहां की क़ानून व्यस्था का सम्मान करना हमारा कर्तव्य है’.

ये भी पढ़ें: 

CAA: हेमंत सोरेन ने 3000 लोगों पर लगा राष्ट्रद्रोह का अरोप लिया वापस

BJP नेता सीपी सिंह के बिगड़े बोल, कहा- राहुल गांधी ‘नकली गांधी’ हैं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 9, 2020, 10:51 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर