Home /News /jharkhand /

छोड़ा अपनों ने साथ, कड़कड़ाती ठंड में रात पर सड़क पर पड़ी रही वृद्धा

छोड़ा अपनों ने साथ, कड़कड़ाती ठंड में रात पर सड़क पर पड़ी रही वृद्धा

समाज में संस्कारों , पारिवारिक और सामाजिक मूल्यों में किस कदर गिरावट आयी है, इसकी बानगी गुरुवार को नामकुम के पलांडू में देखने को मिली. मानसिक रुप से बीमार एक वृद्धा को उनके ही परिजनों ने कड़कड़ाती ठंड में मरने के लिए देर रात सड़क किनारे फेंक दिया.

समाज में संस्कारों , पारिवारिक और सामाजिक मूल्यों में किस कदर गिरावट आयी है, इसकी बानगी गुरुवार को नामकुम के पलांडू में देखने को मिली. मानसिक रुप से बीमार एक वृद्धा को उनके ही परिजनों ने कड़कड़ाती ठंड में मरने के लिए देर रात सड़क किनारे फेंक दिया.

समाज में संस्कारों , पारिवारिक और सामाजिक मूल्यों में किस कदर गिरावट आयी है, इसकी बानगी गुरुवार को नामकुम के पलांडू में देखने को मिली. मानसिक रुप से बीमार एक वृद्धा को उनके ही परिजनों ने कड़कड़ाती ठंड में मरने के लिए देर रात सड़क किनारे फेंक दिया.

अधिक पढ़ें ...
  • News18.com
  • Last Updated :
    समाज में संस्कारों , पारिवारिक और सामाजिक मूल्यों में किस कदर गिरावट आयी है, इसकी बानगी गुरुवार को नामकुम के पलांडू में देखने को मिली. मानसिक रुप से बीमार एक वृद्धा को उनके ही परिजनों ने कड़कड़ाती ठंड में मरने के लिए देर रात सड़क किनारे फेंक दिया.

    क्या है मामला

    घायल अवस्था में एनएच 33 के किनारे पलांडू के पास अर्धनग्न अवस्था में मिली इस महिला का भी पति, बेटा , बेटी या अन्य कोई रिश्तेदार होगा, लेकिन इस महिला के लिए यह सारे रिश्ते बेमानी हैं. मानसिक रुप से बीमार महिला को इस कड़कड़ाती ठंड में इनके अपनो ने ही सड़क किनारे मरने के लिए छोड़ दिया. रात भर सड़क किनारे पड़ी इस महिला की किसी ने सुध नहीं ली. ईटीवी/प्रदेश 18 टीम को जब इसकी जानकारी मिली तो अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करते हुए इसकी सूचना पुलिस को दी गई और फिर पुलिस ने तत्काल इस महिला को वहां से उठा कर उसके चोटों का स्थानीय अस्पताल में इलाज कराया. नामकुम थाना के सब इंस्पेक्टर एस के राय ने बताया कि स्थानीय अस्पताल में इलाज के बाद डॉक्टर की सिफारिश पर उसे कांके स्थित मानसिक आरोग्यशाला भेज दिया गया.  बकौल सब इंस्पेक्टर, फिलहाल पुलिस महिला की पहचान में जुटी और उनके परिजनों को खोजने का प्रयास कर रही है.

    बहरहाल, ईटीवी के प्रयास से स्थानीय पुलिस ने महिला की ऊपरी चोट का तो इलाज करवा दिया, लेकिन अपनों के द्वारा इस हालात में उपेक्षित इस महिला के दिल पर लगी चोट का क्या इलाज होगा, ये हम समाज पर ही छोड़ते हैं.

    (रांची से मनोज कुमार की रिपोर्ट)

    आपके शहर से (रांची)

    रांची
    रांची

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर