लाइव टीवी

विपक्ष को तगड़ा झटका देने की तैयारी! ये 5 विधायक हो सकते हैं बीजेपी में शामिल

News18 Jharkhand
Updated: October 22, 2019, 10:44 AM IST
विपक्ष को तगड़ा झटका देने की तैयारी! ये 5 विधायक हो सकते हैं बीजेपी में शामिल
सूत्रों के मुताबिक विपक्ष के विधायक मनपसंद सीटों पर चुनाव लड़ने की शर्त पर बीजेपी में शामिल हो रहे हैं.

जेएमएम (JMM) से जयप्रकाश भाई पटेल (Jayprakash Bhai Patel), कुणाल षाडंगी (Kunal Shadangi) और चमरा लिंडा (Chamra Linda), वहीं कांग्रेस (Congress) विधायक सुखदेव भगत (Sukhdev Bhagat) और मनोज यादव (Manoj Yadav) बुधवार को बीजेपी का दामन थाम सकते हैं.

  • Share this:
रांची. विधानसभा चुनाव (Assembly Election) की घोषणा से पहले बीजेपी (BJP) ने विपक्षी दलों (Opposition Parties) को जोरदार झटका देने की रणनीति बना ली है. बुधवार यानी कल मुख्यमंत्री रघुवर दास (CM Raghuvar Das) समेत प्रदेश के बड़े नेताओं की मौजूदगी में रांची में इसको अंजाम दिया जा सकता है. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस (Congress) और जेएमएम (JMM) के करीब आधा दर्जन विधायकों (MLAs) को भाजपा में शामिल कराने की तैयारी है. इनमें जेएमएम के बागी विधायक जयप्रकाश भाई पटेल (Jayprakash Bhai Patel) , कांग्रेस विधायक सुखदेव भगत (Sukhdev Bhagat) और मनोज यादव (Manoj Yadav), जेएमएम विधायक कुणाल षाडंगी (Kunal Shadangi) और चमरा लिंडा (Chamra Linda) के नाम शामिल हैं. लोकसभा चुनाव के नतीजे के बाद से ही ये विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं. पिछले दिनों सीएम रघुवर दास से इनकी किसी न किसी बहाने मुलाकात होती रही है.

पार्टी से नाराज चल रहे हैं ये विधायक

नये प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव के साथ सुखदेव भगत के संबंध जगजाहिर हैं. उनके प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद सुखदेव भगत की नाराजगी चरम पर पहुंच गई. उन्होंने उरांव की कार्यशैली को लेकर प्रदेश प्रभारी समेत कांग्रेस के आला नेताओं के पास शिकायत भी दर्ज कराई. बरही विधायक मनोज यादव खुद को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का दावेदार मान रहे थे. ऐसे में रामेश्वर उरांव के प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के बाद से वे भी लगातार नाराज चल रहे हैं और पार्टी के कार्यक्रमों से दूरी बनाए हुए हैं.

जेएमएम विधायक जेपी भाई पटेल ने तो लोकसभा चुनाव में ही टिकट नहीं मिलने पर बागी तेवर अख्तियार कर लिया था. उन्होंने लोकसभा चुनावों के दौरान एनडीए उम्मीदवारों का जमकर चुनाव प्रचार भी किया. कुणाल षाडंगी भी जमशेदपुर से जेएमएम के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन टिकट नहीं मिला. उन्हें इस बात की टीस अब भी है. जेएमएम के बिशुनपुर विधायक चमरा लिंडा भी पार्टी से नाराज चल रहे हैं.

सूत्रों के मुताबिक ये सभी विधायक मनपसंद सीटों पर चुनाव लड़ने की शर्त पर बीजेपी में शामिल हो रहे हैं. इनके अलावा कांग्रेस विधायक निर्मला देवी, देवेन्द्र सिंह बिट्टू, बादल पत्रलेख और नौजवान संघर्ष मोर्चा के विधायक भानु प्रताप शाही से जेएमएम के कुछ और विधायक बीजेपी के संपर्क में है.

ये भी पढ़ें- JVM की नये वोटर्स पर नजर, बाबूलाल बोले- सरकार बनी तो विद्यार्थियों को मुफ्त में देंगे लैपटॉप

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 10:41 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...